Homeलखनऊवाराणसी सिटी समेत पूर्वोत्तर रेलवे के 14 स्टेशनों पर पूछताछ केंद्र निजी...

वाराणसी सिटी समेत पूर्वोत्तर रेलवे के 14 स्टेशनों पर पूछताछ केंद्र निजी हाथों में सौंपे गए

पूर्वोत्तर रेलवे वाराणसी मंडल के ए-1, ए, बी व डी श्रेणी के स्टेशनों पर पूछताछ केंद्र निजी हाथों में सौंप दिये गए हैं। अब यहां रेलवे की जगह ठेका कंपनी के कर्मचारियों की आवाज गूंजेगी। ट्रेनों की सूचना प्रसारण और प्लेटफॉर्म पर गाइडेंस सिस्टम की फीडिंग के कार्यों के बाद अब पूछताछ केंद्र को भी निजी हाथों में सौंप दिया गया है। जो यात्रियों को ट्रेन के आवागमन की पूरी जानकारी उपलब्ध कराएंगे।

एक जुलाई से नई व्यवस्था लागू करने से पहले निजी कंपनी के कर्मचारियों को प्रशिक्षित किया गया। बुधवार को मंडल के कुछ स्टेशनों पर ट्रायल भी लिया गया। मंडुआडीह और वाराणसी सिटी स्टेशन समेत मंडल के सभी 14 स्टेशनों पर पूछताछ केंद्र की कमान पटना के वेबटेक इंटरनेशन लिमिटेड को सौंपी गई है। पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने कंपनी से तीन वर्षो का अनुबंध (1जुलाई2021 से 30 जून 2024) किया है। कंपनी के प्रतिनिधियों की निगरानी रेलवे के सक्षम अधिकारी करेंगे।

पूछताछ केंद्र पर ड्यूटी पहले जैसे तीन शिफ्तो में ही लगाई जाएगी। मंडुआडीह स्टेशन के प्रथम और द्वितीय प्रवेशद्वार के काउंटरों पर दो-दो कर्मचारी लगाए जाएंगे। वाराणसी सीटी स्टेशन पर तीन शिफ्टो में एक- एक कर्मचारी की ड्यूटी लगाई जाएगी। क्रीम पैंट और स्काई ब्लू कलर की शर्ट ड्रेस कोड निर्धारित की गई है। ए -1, ए, बी और डी श्रेणी के स्टेशन पर नए चेहरे नजर आएंगे।

पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने दावा किया कि इस कदम के पीछे कर्मचारियों की कमी बड़ी वजह है। पीए (पब्लिक एड्रेस सिस्टम) और पूछताछ केंद्र चलाने के लिए दूसरे विभाग के कर्मचारियो की ड्यूटी लगाई जाती थी। यात्री सुविधाओं का ख्याल रखते हुए इस तरह के बदलाव की कवायद हुई है। इस बाबत गत वर्ष 2019-2020 में टेंडर जारी किया गया था। तीन कंपनियों ने रुचि दिखाई थी। लेकिन कोविड-19 के चलते प्रक्रिया अधूरी रह गई। निजी एजेंसी का चुनाव करने के बाद टेंडर फाइनल कर दिया गया।

Most Popular