Home लखनऊ Lucknow news- अभ्युदय योजना : 28 तक करा सकते हैं पंजीयन, पांच...

Lucknow news- अभ्युदय योजना : 28 तक करा सकते हैं पंजीयन, पांच और छह मार्च को होगी ऑनलाइन परीक्षा, समय-सारणी घोषित

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कराने वाली अनूठी कोचिंग ‘अभ्युदय’ के छात्रों को जल्द ही टैबलेट का तोहफा मिलने जा रहा है। योगी सरकार के ताजा बजट में इस बाबत घोषणा के बाद एक ओर जहां छात्रों में उत्साह है, वहीं अधिकाधिक युवाओं को इसका लाभ देने के लिए पंजीयन की प्रक्रिया एक बार फिर शुरू कर दी गई है। प्राथमिक योजना के मुताबिक मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में पंजीकृत करीब 10 लाख युवाओं को टैबलेट प्रदान किए जाने की योजना है, ताकि घर बैठे वह दुनिया-जहान की जानकारी अच्छे ढंग से हासिल कर सकें।

‘मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना’ के क्रियान्वयन के लिए गठित राज्य स्तरीय समिति के सदस्य, मंडलायुक्त लखनऊ रंजन कुमार ने बताया कि टैबलेट वितरण के लिए पात्रता नियम बहुत जल्द घोषित किए जाएंगे। वर्तमान में करीब 05 लाख युवा अलग-अलग प्रतियोगी छात्र इस मंच के माध्यम से पढ़ाई कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि अभ्युदय योजना के अंतर्गत समस्त मंडलों में विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए निःशुल्क कोचिंग की साक्षात कक्षाओं के लिए आवेदन फिर से शुरू हो गए हैं।

इच्छुक युवा http://abhyuday.up.gov.in पर पंजीयन करा सकते हैं। मंडलायुक्त लखनऊ ने बताया कि टैबलेट वितरण के लिए पात्रता नियम बहुत जल्द घोषित किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि सिविल सेवा, जेईई, नीट, एनडीए व सीडीएस परीक्षा के लिए स्तरीय तैयारी की सुविधा वाली इस खास कोचिंग की साक्षात कक्षाओं के लिए 28 फ़रवरी 8 बजे तक आवेदन किया जा सकता है। इस तिथि के बाद आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएँगे। जो छात्र पहले से साक्षात कक्षायें कर रहे हैं उन्हें आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है। वो छात्र जिन्होंने 28 फ़रवरी से पहले पंजीकरण करा लेंगे अथवा वो पहले से ऑनलाइन कक्षाओं के लिये पंजीकृत हैं, वह सभी यह परीक्षा दे सकेंगे।

साक्षात कक्षाओं के लिए प्रवेश परीक्षाओं की समयसारणी

एनडीए/सीडीएस : 5 मार्च 12 बजे से 1 बजे

जेईई : 5 मार्च 2 बजे से 3 बजे

नीट : 5 मार्च 4 बजे से 5 बजे

सिविल सेवा : 6 मार्च 2 बजे से 3 बजे

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की खास बातें

ई-लर्निंग प्लेटफार्म

राज्य स्तर पर विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं से संबंधित डिजिटल कन्टेन्ट उपलब्ध कराने हेतु एक ई-लर्निंग प्लेटफार्म की व्यवस्था है।

राज्य सरकार में कार्यरत अधिकारियों द्वारा निःशुल्क मार्गदर्शन एवं शिक्षण।

आईएएस, आईपीएस, भारतीय वन सेवा, पीसीएस संवर्ग के अधिकारियों द्वारा निःशुल्क मार्गदर्शन एवं शिक्षण की व्यवस्था।

वर्चुअल क्लासेज

राज्य स्तर के मार्गदर्शन एवं विषय वस्तु से संबंधित वर्चुअल क्लासेज का आयोजन ई-लर्निंग प्लेटफार्म के माध्यम से।

गाइडेंस एवं संदेह निवारण

प्रत्येक मंडल मुख्यालय पर गाइडेंस एवं संदेह निवारण के लिए राज्य सरकार के अधिकारियों द्वारा वर्चुअल एवं साक्षात कक्षाओं का आयोजन किया जा रहा है।

कॅरियर काउंसलिंग

प्रत्येक जनपद में युवाओं हेतु कैरियर काउंसलिंग सत्रों का आयोजन वेब पोर्टल एवं साक्षात्कार के माध्यम से किया होगा।

Most Popular