Home लखनऊ Lucknow news - कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पास जरूरी, लाइव...

Lucknow news – कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पास जरूरी, लाइव प्रसारण से जुडेंगे श्रद्धालु; चौदह कोसी और पंच कोसी परिक्रमा में बाहरी लोगों पर प्रतिबंध

अयोध्या में होने वाले दीपोत्सव में इस बार कोविड गाइडलाइन का पूरी तरह सेपालन किया जाएगा। सरकार ने तय किया है कि इस बार चौदह कोसी और पंचकोसी परिक्रमा में अयोध्या के बाहर के लोग शामिल नहीं होंगे।

  • प्रशासन ने तय किया है कि चौदह कोशी और पंचकोशी परिक्रमा में अयोध्या के बाहर से से आने वाले लोगों पर प्रतिबंध रहेगा
  • दोपोत्सव कार्यक्रम के तहत कोविड गाइडलाइन का सख्ती से पालन किया जाएगा, सोशल डिस्टेंसिंग पर रहेगा खास जोर

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में कोरोना संक्रमण के चलते इस साल के दीपोत्सव कार्यक्रमों में अयोध्या के प्रमुख साधु संतों व गणमान्य लोंगो को ही आमंत्रित किया जाएगा। साधु संत को एक स्थान से दूसरे स्थान तक ले जाने हेतु जिला प्रशासन अच्छे वाहन की व्यवस्था करवाएगा।दीपोत्सव की तैयारी बैठक मे डीएम एके झा ने यह जानकारी दी। डीएम के मुताबिक इस बार सीमित संख्या में ही लोगों को कार्यक्रम स्थल पर प्रवेश मिलेगा। जिनके पास आमंत्रण-पत्र अथवा जिला प्रशासन द्वारा जारी पास होंगे उन्हीं को प्रवेश मिलेगा।

डीएम ने बताया कि सोशल डिस्टेंसिंग के साथ राम की पैड़ी पर 5.50 लाख दीप प्रज्वलित करने का कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। 13 नवम्बर मुख्य कार्यक्रम के दिन सूचना एवं सांस्कृति विभाग के सहयोग से साकेत महा विद्यालय से रामकथा पार्क तक शोभा यात्रा निकाली जाएगी। जिसमें बैण्ड बाजे के साथ 11 झांकियां रहेंगी।

लाइव प्रसारण होगा

सूचना विभाग के सहयोग से अयोध्या सहित प्रदेश एवं देश के आम लोगो तक कार्यक्रम का लाइव प्रसारण हेतु दूरदर्शन, एएनआई आदि एजेन्सियों से शासन स्तर पर प्रयास किया जा रहा है । 50 प्रमुख स्थानोंं पर एलईडी डिस्प्ले बोर्ड, एलईडी वैन लगाई जाएगी।

अयोध्या के लोग ही करेंगे परिक्रमा

बैठक में कार्तिक पूर्णिमा मेला के दौरान चौदह कोसी, पंचकोसी व स्नान पर्व के आयोजन पर भी चर्चा की गई। तय हुआ कि इसे भी कोरोना से बचते हुए सुरक्षित ढंग से आयोजित किया जाए। बैठक में आम सहमति बनी कि चौदह कोसी एवं पंचकोसी परिक्रमा करने के लिए स्थानीय साधु संतों के साथ अयोध्या के ही लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क के साथ अनुमति दी जाएगी। परिक्रमा व स्नान में अयोध्या से जुड़े हुए बाहरी जिलों के श्रद्धालुओं को अयोध्या में प्रवेश नहीं होने पाएगा। लोगों से अपने करीबी मंदिरों मे ही परिक्रमा करने की अपील की जाएगी।

  • रामकथा पार्क में भगवान राम माता सीता तथा अनुज लक्ष्मण के स्वरूप के आगवानी के साथ उनका विधि विधान से राज्याभिषेक का कार्यक्रम निर्धारित है।
  • अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट बंद होने के कारण विदेशों से रामलीला करने वाले दलों का आगमन नहीं हो पाएगा ।
  • सरयू तट पर स्थापित भजन संध्या स्थल पर दर्शको के बैठने के मध्य सोशल डिस्टेसिंग के साथ व्यवस्था की जाएगी। यहां 11 तारीख से प्रांतीय रामलीला दलों का मंचन होगा।
  • सरयू घाट की आरती में भी सोशल डिस्टेसिंग का पालन करवाया जाएगा। आरती स्थल पर बहुत ही सीमित लोगों को प्रवेश मिलेगा।

Input – Bhaskar.com

Most Popular