HomeलखनऊLucknow news- केजीएमयू में हड्डी की कई जांचें बंद, परेशान मरीज निजी...

Lucknow news- केजीएमयू में हड्डी की कई जांचें बंद, परेशान मरीज निजी केंद्रों पर दोगुने दाम पर जांच कराने के लिए मजबूर

लखनऊ। केजीएमयू में हड्डी रोग से जुड़ी कई महंगी जांचें नहीं हो रही हैं। ऐसे में मजबूरन मरीजों को निजी केंद्रों पर जांच में सुविधा के लिए दोगुने दाम चुकाने पड़ रहे हैं।

केजीएमयू के लिंब सेंटर में हड्डी रोग से जुड़े कई विभाग थे। कोरोना काल में लिंब सेंटर को डेडीकेटेड कोविड अस्पताल बना दिया गया। ऐसे में यहां कार्यरत गठिया रोग विभाग, हड्डी रोग, बाल हड्डी रोग, पीएमआर आदि को शताब्दी अस्पताल शिफ्ट कर दिया गया, लेकिन जांच से जुड़ी मशीनों को लिंब सेंटर में ही छोड़ दिया गया। अब ओपीडी शुरू होने पर इन सभी विभागों को मिलाकर करीब एक हजार मरीज पहुंच रहे हैं। गठिया और हड्डी रोग विभाग में आने वाले करीब 80 फीसदी मरीजों को एचएलए 27 जांच की जरूरत पड़ती है। इससे अर्थराइटिस, स्पांडलाइटिस आदि की पुख्ता जानकारी मिल जाती है। हालांकि, जांच न होने से मरीज परेशान हैं। गौरतलब है कि केजीएमयू में यह जांच करीब 1500 रुपये में होती है, जबकि निजी अस्पताल इसके ढाई से तीन हजार रुपये ले रहे हैं। इसी तरह अन्य जांचें भी प्रभावित हो रही हैं। इस बाबत केजीएमयू के मीडिया प्रभारी डॉ. सुधीर सिंह का कहना है कि अभी तक ओपीडी में सीमित मरीज आ रहे थे। इस वजह से मशीन को शिफ्ट नहीं किया गया है। जल्द ही इस संबंध में केजीएमयू प्रशासन फैसला लेगा और मरीजों को राहत दिलाने का प्रयास किया जाएगा।

Most Popular