Home लखनऊ Lucknow news - मोदी-योगी को MP की भावुक चिट्ठी: शराब पीने से...

Lucknow news – मोदी-योगी को MP की भावुक चिट्ठी: शराब पीने से पुत्र की मौत से आहत भाजपा सांसद की अपील- शिक्षण संस्थानों में नशा मुक्ति अभियान चलाया जाए

(बाएं से) मोहनलालगंज से भाजपा सांसद कौशल किशोर व उनका बेटा आकाश।

बीते 19 अक्टूबर को सांसद के बेटे की हुई थी मौत, शराब पीने से खराब हो गई थी किडनीपहले करवा चौथ के दिन मृतक आकाश की पत्नी ने नशा मुक्त के लिए फेसबुक पर की थी मार्मिक अपील

राजधानी लखनऊ के मोहनलाल गंज लोकसभा सीट से भाजपा सांसद कौशल किशोर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक भावुक चिट्ठी लिखी है। सांसद ने पीएम और सीएम से अपील की है कि देश का नौजवानों को नशे से दूर रहने के लिए नशा मुक्ति जन जागरण अभियान चलाया जाए। दरअसल, बीते 19 अक्टूबर को सांसद के मझले पुत्र आकाश किशोर की महज 28 साल की अल्पायु में किडनी फेल होने से मौत हो गई थी। आकाश को शराब पीने की लत लग गई थी। करवाचौथ व्रत पर आकाश की विधवा पत्नी श्वेता किशोर ने फेसबुक पर लाइव आकर लोगों को नशे से दूर रहने के लिए प्रेरित किया था। आकाश का विवाह चार साल पहले हुआ था। आकाश का दो वर्ष का बेटा भी है।

नई पीढ़ी को नशे से बचाना है, इसलिए शपथ दिलाना होगासांसद कौशल किशोर ने कहा कि नई पीढ़ी को शराब पीने से रोकना चाहते हैं, इसलिए प्रधानमंत्री मुख्यमंत्री और मानव संसाधन विकास मंत्री को पत्र लिखा है। नशे की लत से दूर रहने के लिए उच्च शिक्षण संस्थान हैं या प्राथमिक शिक्षण संस्थानों के बच्चों को संकल्प दिलाया जाए। विद्यालयों में प्रार्थना के समय बच्चों को नशे से होने वाले नुकसान और हानि के बारे में जरूर बताया जाए। अगर यह मेरी मांग पूरी होती है तो मुझे उम्मीद है कि समाज को नशा मुक्त बनाया जा सकता है।

पहले करवा चौथ के पहले अभागन हो गई मैं, पत्नी ने की मार्मिक अपीलसांसद की पुत्रवधू श्वेता किशोर ने अपने पहले करवा चौथ के दिन एक मार्मिक अपील की थी। कहा था कि मैंने बहुत सारे सपने संजोए थे। मैंने सोचा था कि अपनी जेठानी, मम्मी के साथ अपना पहला करवा चौथ मनाऊंगी, लेकिन मेरे पति आकाश हमें उससे पहले छोड़ कर चले गए। वह मुझसे वादा करते थे कि मैं शराब नहीं पिऊंगा। शराब छोड़ दूंगा। लेकिन वह चोरी छुपे शराब पीते रहे। जिससे उनकी मौत हो गई। मेरी शादी को 3 साल हो गए, हमारे समाज में यह संकल्प है कि शादी के 2 साल तक कोई भी त्यौहार ससुराल में नहीं मनाया जाता है। इसलिए तीसरे साल हमारा का पहला करवा चौथ था। सभी सुहागन सभी माताओं से अपील करती हूं कि अपने बच्चों को नशा मुक्त करने का संकल्प दिलाएं। नई पीढ़ी को नशा मुक्ति से दूरी बनवाएं। मैं अपने ससुर सांसद कौशल किशोर के इस अभियान में बढ़-चढ़कर हिस्सा लूंगी जिससे हजारों लाखों परिवार इस नशे से मुक्त हो सके।

Input – Bhaskar.com

Most Popular