HomeलखनऊLucknow news - यूपी में वैक्सीन संकट गहराया: राजधानी में पहली जुलाई...

Lucknow news – यूपी में वैक्सीन संकट गहराया: राजधानी में पहली जुलाई को महज 16574 लोगों का हुआ वैक्सीनेशन, 6 हजार केंद्र बंद होने से टला जुलाई महाअभियान

कोरोना वैक्सीन की कमी से थमा महाअभियान - Dainik Bhaskar

कोरोना वैक्सीन की कमी से थमा महाअभियान

यूपी में सेंट्रल स्टॉक खत्म होने से वैक्सीन का संकट गहरा गया है।लिहाजा एक जुलाई से प्रस्तावित महा अभियान टाल दिया गया है।गुरुवार से यहां 10 हजार साइट पर टीका लगाने का प्लॉन था।वहीं सिर्फ चार हजार फिक्स केंद्र पर ही वैक्सीन लग रही है।ऐसे में बुलावा पर्ची मिलने वालों को भी डोज नहीं लग सकी।फिलहाल क्लस्टर बनाकर टीकाकरण करने की योजना टाल दी गई।सिर्फ फिक्स साइट पर ही वैक्सीन लगेगी। महाअभियान जल्द शुरू किया जाएगा।

लखनऊ में गुरुवार को महज 16574 का हुआ टीकाकरण –

वही लखनऊ में गुरुवार को सरकारी व निजी केन्द्रों में बनाये गए टीकाकरण केन्द्रों पर 16574 लोगों को टीका लगा। इसमें 18 साल से अधिक उम्र के 6577 को पहली डोज व 1102 को दूसरी डोज लगी। हेल्थकेयर वर्कर्स में 69 को पहली, 41 दूसरी व फ्रंट लाइन वर्कर्स में से 111 को पहली व 22 को दूसरी डोज लगी। इसके अलावा 45 साल से अधिक वालों में 2715 ने पहली व 4148 ने दूसरी डोज, 60 साल से ऊपर 567 ने पहली व 1222 ने कोरोना टीके की दूसरी डोज लगवायी। इसमें 109 सरकारी केन्द्रों पर 14763 और 11 निजी केन्द्रों पर 1811 लोगों को टीका लगा।

ईच डे होगा स्लॉट बुक’ –

लखनऊ के टीकाकरण प्रभारी एसीएमओ डॉ. एमके सिंह के मुताबिक अब प्रतिदिन शाम को स्लॉट खोला जा रहा है। एक दिन के लिए ही स्लॉट जारी किये जाते हैं। इसमें संख्या भी कम होती है। जल्द ही ऑन स्पॉट वैक्सीनेशन की भी सुविधा दी जाएगी।

वैक्सीनेशन कंपैन को लगा तगड़ा को झटका –

यूपी में पहले चार से पांच लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जाती थी।जून के दूसरे सप्ताह से हर रोज 6 लाख टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया।वहीं 21 जून से हेल्थ टीम द्वारा सात लाख से साढ़े आठ लाख तक रोज डोज लगाना शुरु किया।ऐसे में जून में एक करोड़ डोज लगाने का लक्ष्य 24 दिन में ही हासिल कर लिया गया।मगर केंद्र से पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। ऐसे में गत शुक्रवार से यूपी में वैक्सीन का संकट छाया हुआ है।लिहाजा एक जुलाई से शुरू होने वाले टीकाकरण अभियान को झटका लग गया।

10 हजार केंद्र पर लगने हैं 10 लाख टीका

एक जुलाई से महा अभियान के लिए करीब 10 हजार साइट प्रदेश में बनाई गई थी।इसमें हर रोज 10 लाख टीका लगाने का दावा किया गया।वहीं गुरुवार को 4,127 केंद्रों पर ही टीका लगना शुरू हुआ।ऐसे में 6 हजार के करीब साइट बंद रही।

महीने के आखिरी में यूं लड़खड़ाया मिशन –

जून में पहले जहां 8 हजार 400 के करीब वैक्सीन साइट पर टीका लग रहा था।वहीं सोमवार को 6 हजार 417 साइट पर टीकाकरण हुआ।अगले दिन मंगलवार को 4 हजार 403 साइट पर, बुधवार को सिर्फ 2,965 केंद्रों पर टीका लगा।इस दौरान 5 हजार 435 साइट बंद रही।इन दिनों में लाखों लोग टीका से वंचित हो गए।

दूसरी डोज के लिए भी भटक रहे लोग –

राजधानी में भी वैक्सीन का संकट बरकरार है।यहां के केजीएमयू, सिविल अस्पताल, बीआरडी, लोकबंधु, लोहिया में सुबह ही वैक्सीन के लिए लाइने लग गयीं। वहीं दूसरी डोज के लिए पहुंचने वाले लोग भी भटकते रहे।45 साल से ऊपर के लोगों का ऑन स्पॉट पंजीकरण नहीं किया गया।ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराने वालों को ही वैक्सीन नही लगी।

कैसे लुढ़का डोज़ का ग्राफ

तारीख डोज

24 जून 8.63 लाख

25 जून 8.30 लाख

28 जून 5.54 लाख

29 जून 1.85 लाख

30 जून 68 हजार

01 जुलाई 16574 (लखनऊ)

खबरें और भी हैं…

Most Popular