Home लखनऊ Lucknow news - राज्यसभा उम्मीदवार का हलफनामा: पेशे से शिक्षक रहे सपा...

Lucknow news – राज्यसभा उम्मीदवार का हलफनामा: पेशे से शिक्षक रहे सपा महासचिव राम गोपाल यादव का बढ़ा हथियारों से प्रेम, 16 साल में कार्बाइन, रायफल और पिस्टल खरीदी

राम गोपाल यादव ने बुधवार को विधान सभा के सेंट्रल हॉल पहुंचकर अपना नामांकन दाखिल किया।

बुधवार को प्रोफेसर राम गोपाल यादव ने राज्यसभा चुनाव के लिए दाखिल किया नामांकनहलफनामे के अनुसार, 16 साल में 18 गुना बढ़ी संपत्ति, 19 गुना देनदारी भी बढ़ी

पेशे से शिक्षक रहे समाजवादी पार्टी के महासचिव और राज्यसभा सांसद प्रोफेसर राम गोपाल यादव बदले समय के साथ हथियारों से प्रेम करने लगे हैं। 16 साल पहले जहां उनके पास एक भी हथियार नहीं था, वहीं अब उनके पास कार्बाइन, रायफल और एक रिवॉल्वर है। वहीं 16 साल में उनकी संपत्ति भी 18 गुना बढ़ी है। बुधवार को प्रोफेसर यादव ने राज्यसभा के लिए नामांकन दाखिल किया।

प्रोफेसर राम गोपाल यादव ने अपने हलफनामा में कुल संपत्ति 14.19 करोड़ बताई है। जिसमें से चल संपत्ति 2.09 करोड़ और अचल संपत्ति 12.10 करोड़ रुपए है। साल 1992 में राम गोपाल पहली बार राज्यसभा सांसद बने थे।

16 साल में 18 गुना बढ़ी संपत्ति

2004 में संभल लोकसभा सीट से प्रो. रामगोपाल यादव ने चुनाव लड़ा था और जीते भी थे। तब उन्होंने अपना जो एफिडेविट दाखिल किया था, उस हिसाब से उनकी कुल संपत्ति 79.53 लाख थी, जबकि 2020 में यह 18 गुना बढ़कर 14.19 हो गयी है।

19 गुना बढ़ गयी 16 साल में देनदारी

2004 में जब प्रो. रामगोपाल यादव ने अपना एफिडेविट दाखिल किया था, तब उनके ऊपर 4,75,000 की देनदारी थी, जबकि 2020 में उनकी देनदारी 19 गुना बढ़ कर 89,16,648 हो गयी है।

16 साल से नही बढ़े जेवरात, बढ़ गयी बंदूकें

2004 के हलफनामे के मुताबिक रामगोपाल यादव के पास 610 ग्राम सोना था। जबकि 2020 में भी इतना ही सोना उन्होंने अपने एफिडेविट में दिखाया है। जिसका मूल्य 30,70,313 रुपए है। जबकि 2004 में रामगोपाल यादव के पास बंदूकें नहीं थी। 2020 में उनके पास 3 बंदूकें हैं। जिनमें एक कार्बाइन, एक रायफल और एक रिवॉल्वर शामिल है।

Input – Bhaskar.com

Most Popular