HomeलखनऊLucknow news- सीएम योगी का दिए निर्देश : कोरोना से अति प्रभावित...

Lucknow news- सीएम योगी का दिए निर्देश : कोरोना से अति प्रभावित 10 जिलों पर दें विशेष ध्यान

विस्तार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित लखनऊ, कानपुर व वाराणसी समेत 10 जिलों में विशेष निगरानी के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि स्थानीय जरूरतों के अनुसार कोविड हॉस्पिटल बनाए जाएं। बेड  बढ़ाएं और निजी अस्पतालों को कोविड हॉस्पिटल के रूप में परिवर्तित करें। वे शुक्रवार को टीम-11 के साथ वर्चुअल समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने संबंधित मंडलायुक्तों व जिलाधिकारियों से कोरोना की स्थिति और उनकी रणनीति की जानकारी भी ली।

उन्होंने प्रयागराज में अविलंब यूनाइटेड मेडिकल कॉलेज को डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल के रूप में परिवर्तित करने और 108 एंबुलेंस सेवा के बेड़े में से आधी एंबुलेंस को सिर्फ कोविड मरीजों के लिए ही रखने के निर्देश दिए। उन्होंने मौजूदा हालात को देखते हुए 15 मई तक मुख्यमंत्री आरोग्य मेलों का आयोजन न करने को कहा है। उन्होंने कहा कि अभी दो लाख से अधिक जांच हो रही है, इसे ढाई लाख तक ले जाएं। अन्य प्रदेशों से आने वालों के लिए एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन तथा बस स्टेशनों पर रैपिड एंटीजन टेस्ट की व्यवस्था सुनिश्चित करें।

उन्होंने सभी जिलों में क्वारंटीन सेंटर संचालित करने के निर्देश देते हुए इनमें आवश्यक चिकित्सकीय सुविधाओं के साथ भोजन और शयन की समुचित व्यवस्था करने को कहा। उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन के नियमों को कड़ाई से लागू करें, पब्लिक ऐड्रेस सिस्टम और निगरानी समितियों के जरिए लोगों को जागरूक करें।

होम आइसोलेशन वालों को दें मेडिकल किट

सीएम ने निर्देश दिए कि होम आइसोलेशन वाले मरीजों को हर हाल में मेडिकल किट उपलब्ध कराएं। ऐसे मरीजों को कम से कम एक सप्ताह की दवाएं उपलब्ध कराने के साथ ही उनका नियमित हालचाल भी लिया जाए। एंबुलेंस, ऑक्सीजन और अन्य चिकित्सकीय जरूरतों की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। किसी प्रकार की जरूरत होने पर तत्काल शासन को अवगत कराएं।

कोविड से जुड़े कामों में खर्च होगी विधायक निधि
सीएम ने कहा कि पिछले साल रोकथाम संबंधी कार्यों में विधायक निधि उपयोगी सिद्ध हुई थी। इस वर्ष भी कोविड केयर फंड की नियमावली के अनुरूप विधायकों की अनुशंसा पर उनकी निधि का कोविड प्रबंधन में उपयोग किया जा सकता है।

दूसरे प्रदेशों से आने वालों की हो रही जांच
अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने बताया प्रदेश में करोना संक्रमण के विस्तार को रोकने के लिए अन्य प्रदेशों से आने वाले यात्रियों में कोरोना की जॉच के लिए संघन चेकिंग की जा रही है। बीते कुछ दिनों में प्रदेश के विभिन्न स्टेशनों पर उतरने वाले कुल 1 लाख 51 हजार से अधिक यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई। चेकिंग में संदिग्ध पाये गये 10150 व्यक्तियों के कोविड टेस्ट कराया गया, जिनमें 281 व्यक्ति कोविड पाजिटिव पाए गए। 

प्रदेश के 28494 स्थानों पर अग्निशमन विभाग ने किया सैनेटाइजेशन
संक्रमण को रोकने के लिए फायर सर्विसेज की ओर से लगातार सैनिटाइजेशन का काम किया जा रहा है। अब तक विभिन्न जिलों में हॉटस्पॉट व सम्भावित हॉटस्पॉट 1069, संवेदनशील स्थल 2403, बाजार 3690, आवासीय स्थल 7532 व 13801 अन्य स्थलों पर सैनिटाइजेशन का का किया गया है।

होम आइसोलेशन वालों को दें मेडिकल किट

Most Popular