HomeलखनऊLucknow news- हाईकोर्ट में प्रवेश पर रोक लगने नाराज वकीलों ने जाम...

Lucknow news- हाईकोर्ट में प्रवेश पर रोक लगने नाराज वकीलों ने जाम किया अयोध्या हाईवे, सात घंटे प्रदर्शन

लखनऊ। कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्य न्यायाधीश ने हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ के परिसर में लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी। इस प्रतिबंध के दायरे में वकीलों को भी रखा गया। जिन वकीलों के मुकदमों की सुनवाई थी, सिर्फ ही प्रवेश दिया जा रहा था। इस आदेश की जानकारी मिलते ही वकील नाराज हो गए और हाईकोर्ट के सामने अयोध्या हाइवे पर जाम लगाकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। वकीलों के प्रदर्शन से सात घंटे तक अयोध्या हाइवे, शहीद पथ, गोमतीनगर व विभूतिखंड इलाके में यातायात प्रभावित रहा। देर शाम करीब सात बजे प्रदर्शन समाप्त हुआ तो यातायात व्यवस्था सुचारु हो सकी।

राजधानी में कोरोना संक्रमित मिलने का आकड़ा पिछले तीन-चार दिनों में हजार के पार पहुंच गया है। इसे देखते हुए हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने लखनऊ खंडपीठ में लोगों के प्रवेश पर रोक लगा दी। सोमवार को जब वकील हाईकोर्ट पहुंचे तो वहां सिर्फ उन्हीं वकीलों को जाने दिया गया, जिनके मुकदमे लगे हैं। अन्य वकीलों व वादकारियों को बाहर ही रोक दिया गया। इससे नाराज वकीलों की पहले तो गेट पर तैनात सुरक्षाकर्मियों से कहासुनी हुई, फिर वे भारी संख्या में हाईकोर्ट के सामने लखनऊ-अयोध्या हाइवे पर जाम लगाकर प्रदर्शन करने लगे। हाइवे जाम करने की सूचना पर विभूतिखंड, चिनहट, गोमतीनगर, गाजीपुर व इंदिरानगर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन पुलिस अधिकारी वकीलों को शांत कराने में नाकाम रहे।

आसपास के इलाके में लगा भीषण जाम

वकीलों के प्रदर्शन के कारण अयोध्या हाइवे, गोमतीनगर, विभूतिखंड व शहीद पथ पर भीषण जाम लग गया। लोगों को वाहन निकालने में दिक्कतों का सामना करना पड़ा। हालात काफी बद से बदतर होते चले गए, लेकिन पुलिस चाहकर भी कुछ नहीं कर पा रही थी। वकीलों के सामने से जो भी निकलने की कोशिश कर रहा था, उसके वाहनों की चाबियां निकाल ली जा रही थीं। इससे लोगों ने आसपास के सर्विस व लिंक रोड का सहारा लिया तो वहां भी वाहनों का दबाव बढ़ने से जाम लग गया। हर तरफ वाहनों के पहिये थम गए थे। अयोध्या हाइवे व शहीद पथ की स्थिति काफी खराब हो गई थी।

कोविड संक्रमण रोकने के लिए लगा प्रतिबंध

एडीसीपी पूर्वी जोन एसएम कासिम आबिदी ने बताया कि हाईकोर्ट परिसर में कोविड संक्रमण को लेकर प्रवेश पर रोक लगाई गई थी। सिर्फ जिनकी तारीख थी उनको ही प्रवेश दिया जा रहा था। प्रदर्शन की सूचना पर आसपास के कई थानों की पुलिस बुला ली गई थी। पुलिस शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए मुस्तैद थी। लोगों को दिक्कत न हो इसके लिए पुलिस ने सर्विस व लिंक रोड पर डायवर्जन दे दिया था। देर शाम को स्थित सामान्य हो गई। प्रदर्शन के दौरान कोई विवाद नहीं हुआ।

बार ने नहीं किया प्रस्ताव

अवध बार के अध्यक्ष एचजीएस परिहार ने बताया कि अवध बार की तरफ से इस विरोध प्रदर्शन का कोई प्रस्ताव नहीं किया गया था। बार के चुनावी माहौल में कुछ वकीलों ने यह विरोध प्रदर्शन किया।

Most Popular