कोविड-19 के कारण अब लोग सफर करने में डरने लगे हैं. कोविड-19 का असर सफर पर साफ-साफ दिखने लगा है. बहुत कम लोग अब सफर करने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं. इसके कारण अब परिवहन विभाग घाटे में जा रहा है. बहुत जगह एकमुश्त सवारी नहीं मिलने के कारण अब परिवहन विभाग को काफी ज्यादा घाटा लग रहा है.

ऐसे में परिवहन निगम प्रशासन ने लखनऊ से कानपुर समेत आठ शहरों के बीच चलने वाली नाॅन स्टाप बसों की 24 सेवाओं को हर स्टापेज पर रोककर चलाने का फैसला लिया है. अब यह सभी बसें हर स्टॉपेज पर रुकेंगे,जिससे यात्रियों को सफर करने में काफी ज्यादा आसानी होने लगेगा.

आपको बता दें कि क्षेत्रीय प्रबंधक पल्लव बोस ने कहा कि नॉनस्टॉप चलने वाली सभी बसों को शहर के भीतर सभी बस स्टॉपेज को रोकने का आदेश दिया गया है. यह आदेश सभी बस के ड्राइवर और कंडक्टररो को दिया गया है. बस कंडक्टर को कहा गया है कि अब हर स्टॉपेज पर रोककर सवारियों को बस में बैठने का मौका दें.

अब यह सभी बसें सारे स्टॉपेज पर रुकेंगे फुटकर सवारियों को लखनऊ से कानपुर, अयोध्या, झांसी, बलरामपुर, लखीमपुर, हरदोई, गोरखपुर, वाराणसी रूट की बसें पकड़ने में आसानी होगी और रोडवेज को राजस्व का नुकसान नहीं उठाया पड़ेगा. इन बसों के चलने से फुटकर यात्री आसानी से सफर कर पाएंगे. फुटकर सवारियों को इन बसों के हर स्टॉपेज पर रुकने से काफी ज्यादा लाभ होगा. यह बसें सभी स्टॉपेज पर रुकेंगे जिससे अब फुटकर सवारी भी अपने गंतव्य स्थान पर आसानी से जा पाएंगे.