हर साल लाखों की संख्या में अभ्यर्थी यूपीएससी की परीक्षा देते हैं. यूपीएससी की परीक्षा में वही अभ्यर्थी सफलता हासिल कर पाते हैं जो कड़ी मेहनत करते हैं और साथ ही साथ सही रणनीति अपनाते हैं. इस परीक्षा को पास करने के लिए हर साल लाखों की संख्या में अभ्यर्थी कोचिंग इंस्टिट्यूट में पढ़ते हैं और कई ऐसे अभ्यर्थी भी होते हैं जो बिना कोचिंग भी इस कठिन परीक्षा को पास कर दिखाते हैं.

आज हम आपको हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के रहने वाले अभिषेक वर्मा के बारे में बताने वाले हैं. अभिषेक वर्मा ने बिना कोचिंग ज्वाइन किए यूपीएससी की परीक्षा पास कर दिखाई. आपको बता दें कि अभिषेक की बड़ी बहन भी एक सिविल सर्विस अफसर है. अभिषेक की तैयारी में उनकी बहन ने उनका बहुत साथ दिया.

अभिषेक ने IIT दिल्ली से B.Tech. कंप्यूटर साइंस से ग्रेजुएशन डिग्री हासिल की. कैंपस प्लेसमेंट के दौरान उन्हें एक मल्टीनेशनल कंपनी ने जॉब ऑफर किया. लेकिन वह शुरू से आईएएस अफसर बनना चाहते थे इसलिए उन्होंने कंपनी के ऑफर को ठुकरा दिया. अभिषेक ने लाखों की नौकरी छोड़कर यूपीएससी की परीक्षा पास करने की ठान ली.

सेल्फ स्टडी को मानते हैं सफलता की सीढ़ी –

एक इंटरव्यू में अभिषेक ने बताया कि कैंडिडेट अक्सर उनसे कोचिंग के इंर्पोटेंस के बारे में सवाल करते हैं. आजकल हर कुछ ऑनलाइन मिल रहा है. आप ऑनलाइन सारे किताब ले सकते हैं और सेल्फ स्टडी से यूपीएससी जैसे कठिन परीक्षा को पास कर सकते हैं.अभिषेक का कहना है कि कोचिंग आने जाने में बहुत समय बर्बाद होता है. हां अगर आपका मन हो तो आप कोचिंग जा सकते हैं.

UPSC की तैयारी के तीन मूलमंत्र

अभिषेक वर्मा का कहना है कि यूपीएससी की परीक्षा पास करने के लिए आपको तीन बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है. पहला यह कि आपको पढ़ने के लिए एक सही रणनीति बनाना होगा. दूसरा यह कि आपको पुराने क्वेश्चन पेपर का अक्सर रिवीजन करना होगा. क्वेश्चन पेपर देखने से आपको पता चलेगा कि सिलेबस कैसा है और एग्जाम्स में कैसे सवाल पूछते हैं.उन्होंने कहा कि तीसरा और सबसे अहम पॉइंट यह है कि आपको सही किताबों की लिस्ट तैयार करनी होगी. आप रेगुलर सही किताबों को पढ़ना होगा क्योंकि अलग-अलग किताब पढ़ने से आप कंफ्यूज हो सकते हैं.