इ श्रम मजदूरों को काफी फायदा दे रहा है.इससे गरीब मजदूर अपने घर कोरोना महामारी में भी अच्छे से चला पाते हैं और साथ ही साथ उनको अपने घर में दो वक्त की रोटी जुटाने में परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ता है.

उत्तर प्रदेश ई श्रम पोर्टल पर टॉप रैंक पा लिया है. अभी तक उत्तर प्रदेश से 7.30 करोड़ मजदूर रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं. कामगारों को ऐसा लगता है कि मार्च तक दो किस्तों में ₹2000 मिलेंगे. लेकिन आपको बता दें कि यह किस्त सिर्फ उन्हीं को मिलेंगे जिन्होंने दिसंबर में रजिस्ट्रेशन कराया है.

सरकार ने स्पष्ट रूप से यह कह दिया कि 31 दिसंबर तक पोर्टल पर जिन्होंने रजिस्ट्रेशन कराया है उन्हें ही भत्ता का लाभ दिया जाएगा. भाजपा श्रम प्रकोष्ठ के संयोजक भूपेश अवस्थी ने भी यही बात कही. 31 के बाद अब तक सवा करोड़ से ज्यादा लोग रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं. दूसरी किस्त अगले महीने जारी हो सकती है.

अपर श्रमायुक्त कानपुर परिक्षेत्र एसपी शुक्ल ने भी माना कि इस साल रजिस्ट्रेशन कराने वालों को भत्ता मिलने के कोई आदेश उनके पास नहीं आए हैं इसलिए कोई कयास न लगाए. आपको बता दें कि सरकार की तरफ से गरीब कामगारों को इस योजना के तहत भत्ता दिया जाता है. इससे वह अपने परिवार का भरण पोषण कर पाते हैं.