HomeगोरखपुरGorakhpur news- कहानी देश के उस राष्ट्रपति की, जो रिश्तेदार की नहीं...

Gorakhpur news- कहानी देश के उस राष्ट्रपति की, जो रिश्तेदार की नहीं लगवा सके थे नौकरी, ऐसे जताई थी असमर्थता

19 अगस्त 1953 को डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने राष्ट्रपति भवन के लेटरहेड पर अपनी नजदीकी रिश्तेदार उमा देवी निवासी जीरादेई को जवाबी पत्र लिखा था।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular