HomeगोरखपुरGorakhpur news- कोरोना के कारण नेपाल सीमा बंद: अपनों के बिना बेरंग...

Gorakhpur news- कोरोना के कारण नेपाल सीमा बंद: अपनों के बिना बेरंग हुई होली, मिलने की आस अधूरी

विस्तार

भारत-नेपाल के संबंध सदियों पुराने रहे, रिश्तेदारी, खानपान, संस्कृति, संबंधों का ऐसा ताना बाना है जिसमें दोनों देशों के नागरिक अपने उत्सव को भी मिलजुल कर मानते हैं, पिछले वर्ष होली 9 मार्च को थी। जिस कारण दोनों देशों के नागरिकों को होली आपस में खेलने में कही कोई दिक्कत नहीं हुई, न ही सीमा पर कोई रुकावट थी।

इस वर्ष कोरोना का असर बढ़ने के कारण सीमा सील कर दी गई। यह दोनों देशों के इतिहास में पहली बार है, जब होली पर्व एक दूसरे के बगैर मनाया जाएगा। सीमा पर रोजाना अपनों के पास जाने की आस में सैकड़ों लोग आ रहे हैं, पर निराश लौट रहे हैं।

नेपाली प्रशासन रविवार सोनौली सीमा पर पहुंचे 80 भारतीय लोगों को वापस लौटा दिया। राजस्थान के विनीत मित्तल की शादी नेपाल काठमांडू में हुई है। अपनी पत्नी के साथ वह अपने ससुराल जाने के लिए सोनौली सीमा पर पहुंचे थे लेकिन उन्हें वापस जाना पड़ा। उनकी पत्नी वैशाली ने बताया कि शादी के बाद पहली होली मां के यहां खेलनी थी, पर सीमा से लौट रही हूं।

कोल्हुई के जगदीश यादव के कई रिश्तेदार नेपाल में हैं, घर के बने अचार, पापड़, मिठाई, गिफ्ट लेकर नेपाल होली की शुभकामना के लिए जाना था। उन्होंने कहा बहुत निराशा हुई। आरती थापा, मनोज शेरपा, मंजू जायसवाल बहुत से नेपाली नागरिक सीमा से पुनः नेपाल लौट गए। सबकी अपनो संग होली खेलने और मिलने की आस टूट गई।

 

Most Popular