HomeगोरखपुरGorakhpur news- सांसों का सिलिंडर: गोरखपुर में बिजली गुल होने से ऑक्सीजन...

Gorakhpur news- सांसों का सिलिंडर: गोरखपुर में बिजली गुल होने से ऑक्सीजन प्लांट से उत्पादन ठप, अधिकारियों में मची अफरा-तफरी

विस्तार

गोरखपुर जिले में बुधवार देर रात आयी आंधी और बारिश का असर गुरुवार सुबह ही दिखने लगा। तेज आंधी के कारण गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण गीडा के कई इलाकों में रात से बिजली नहीं है। इसमें ऑक्सीजन बनाने वाले दो प्लांट भी शामिल हैं। रात तकरीबन तीन बजे से बिजली गुल होने की वजह से दोनों प्लांट पूरी तरह बंद हो गए हैं।

अचानक से बिजली आपूर्ति ठप होने की सूचना पर निगम और प्रशासन के अधिकारी भागकर गीडा पहुंचे। रात 2:30 बजे से गुल हुई बिजली सुबह 8:30 बजे बहाल हुई। इसके बाद ऑक्सीजन प्लांट को शुरू कर उत्पादन शुरू किया गया। उधर ऑक्सीजन प्लांट बंद होने से शहर के अस्पतालों में ऑक्सीजन के लिए अफरा-तफरी शुरू हो गई। निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन का बैकअप से काम चलाया जा रहा।

बता दें कि बरहुआ के 132 केवी पारेषण उपकेंद्र पर रात 2:30 बजे बिजली गिरने से 33 केवी का सिस्टम क्षतिग्रस्त हो गया। इस कारण गोरखपुर औद्योगिक विकास प्राधिकरण गीडा के कई इलाकों में बिजली गुल हो गई। इन्हीं में से ऑक्सीजन बनाने वाले दो प्लांट भी शामिल हैं। बिजली गुल होने के कारण दोनों प्लांट पूरी तरह बंद हो गए, जिससे उत्पादन अचानक से ठप हो गया।

देर रात ही सूचना पर बिजली निगम के अफसरों के साथ ही सिटी मजिस्ट्रेट भी गीडा पहुंचे। जेनरेटर चलवाकर आपूर्ति शुरू कर उत्पादन करवाने का प्रयास किया गया।

अवर अभियंता गीडा ने बताया कि ट्रांसमिशन में दिक्कत आने की वजह से गीडा के कई इलाकों में बिजली गुल हो गई थी। इसी में दोनों ऑक्सीजन प्लांट भी थे। बिजली गुल होने की वजह से ऑक्सीजन उत्पादन का संकट बना रहा। सुबह आपूर्ति बहाल होने के बाद प्लांट में उत्पादन का काम भी शुरू हुआ।

 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular