HomeलखनऊLucknow news- अजीत हत्याकांड में माफिया सुनील राठी, प्रदीप कबूतरा और राजन...

Lucknow news- अजीत हत्याकांड में माफिया सुनील राठी, प्रदीप कबूतरा और राजन जाट के लिए पुलिस को मिला वारंट बी, लखनऊ लाएगी पुलिस

लखनऊ। पूर्व जेष्ठ उप प्रमुख अजीत सिंह की हत्या में शामिल तीन आरोपियों के खिलाफ विभूतिखंड पुलिस को वारंट बी मिल गया है। तीनों अलग-अलग जेल में बंद हैं। जिन आरोपियों के खिलाफ वारंट बी मिला है, उनमें पश्चिमी उत्तर प्रदेश का कुख्यात माफिया सुनील राठी, आजमगढ़ का प्रदीप कबूतरा और हरियाणा के कुरुक्षेत्र का रहने वाला राजन जाट उर्फ कुणाल शामिल हैं। पुलिस तीनों को लखनऊ लाकर पूछताछ करेगी ताकि हत्या से संबंधित और भी राज सामने आ सकें।

प्रभारी निरीक्षक चंद्रशेखर सिंह के मुताबिक, अजीत सिंह की हत्या के मामले में शामिल तीन आरोपियों के खिलाफ वारंट बी जारी कर दिया गया है। तिहाड़ जेल में बंद पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुख्यात माफिया सुनील राठी पर इस हत्याकांड में जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह के इशारे पर शूटर व असलहा मुहैया कराने का आरोप है। वहीं आजमगढ़ का प्रदीप सिंह कबूतरा पर शूटरों को शरण देने और शहर से बाहर भगाने में मदद का आरोप है। इस वारदात को अंजाम देने में राजस्थान के लॉरेंस बिश्नोई गिरोह का शूटर राजन जाट उर्फ कुणाल भी शामिल था। पुलिस के मुताबिक, कुणाल ने वारदात को अंजाम देने के बाद घायल शूटर राजेश तोमर के इलाज में मदद की। उसके साथ काफी दिनों तक रहा उसे दिल्ली पहुंचाने में भी मदद की थी। प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक, पुलिस तीनों आरोपियों को वारंट बी के जरिए लखनऊ लाएगी और उनसे अलग-अलग पूछताछ करेगी।

तीन जेलों में बंद हैं आरोपी

प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक पश्चिमी उतर प्रदेश का माफिया सुनील राठी कुछ दिन पहले बागपत जेल में था। लेकिन दिल्ली में हुए मामले की सुनवाई के लिए उसे तिहाड़ जेल में शिफ्ट कर दिया गया है। वारंट बी के जरिए उसे दिल्ली के तिहाड़ जेल से लखनऊ लाया जाएगा। वही प्रदीप कबूतर आ आजमगढ़ जेल में एक पुराने मामले में आत्मसमर्पण कर पहुंचा है। उधर राजन जाट उर्फ कुणाल को दिल्ली की स्पेशल क्राइम टीम ने मुंबई से गिरफ्तार किया है । वह दिल्ली पुलिस के कस्टडी में 10 दिन के रिमांड पर है।

हरियाणा, दिल्ली और राजस्थान की पुलिस कर रही थी राजन की तलाश

प्रभारी निरीक्षक विभूति खंड चंद्रशेखर सिंह के मुताबिक राजन जाट उर्फ कुणाल हरियाणा के कुरुक्षेत्र स्थित जटेड़ी गांव का रहने वाला है। वह लॉरेंस बिश्नोई गिरोह के लिए काम करता है। उस पर हरियाणा के कुरुक्षेत्र पुलिस ने 25000 तो चंडीगढ़ पुलिस ने ख50000 का इनाम घोषित किया था । राजन जाट की तलाश दिल्ली के जिमखाना क्लब में गन पॉइंट पर कार लूटने का भी मुकदमा दर्ज है। राजन जाट की तलाश लखनऊ की पुलिस ही नहीं दिल्ली हरियाणा और राजस्थान की पुलिस कर रही थी। दिल्ली की स्पेशल क्राइम ब्रांच ने उसे नवी मुंबई से गिरफ्तार किया था।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular