Home लखनऊ Lucknow news- अब जल्द ही सीतापुर-लखीमपुर रूट पर दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक ट्रेनें

Lucknow news- अब जल्द ही सीतापुर-लखीमपुर रूट पर दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक ट्रेनें

लखीमपुर खीरी/सीतापुर। सीतापुर-लखीमपुर रूट पर इलेक्ट्रिक ट्रेनों के दौड़ने का सपना अब जल्द पूरा होने वाला है। बुधवार को ट्रैक का निरीक्षण करने के बाद रेल संरक्षा आयुक्त लतीफ अहमद ने हरी झंडी दे दी है। 90 किमी की रफ्तार से स्पीड ट्रायल कर लखीमपुर से सीतापुर का सफर 40 मिनट में पूरा किया गया। सीआरएस सफल रहा। ट्रैक पर कराए गए कार्यों की गुणवत्ता बेहतर पाई गई है। उम्मीद जगी है कि अब इस रूट पर इलेक्ट्रिक ट्रेनें जल्द ही दौड़ती नजर आएंगी।

लखनऊ से सीतापुर के बीच इलेक्ट्रिक लाइन होने के बाद रेलवे सीतापुर से लखीमपुर तक विद्युतीकरण का कार्य कराने में लगा हुआ है। सीतापुर से लखीमपुर तक इलेक्ट्रिक ट्रेन दौड़ाने के लिए पिछले कई माह से कार्य तेजी से चल रहा था। सभी कार्य पूरा होने के बाद पिछले महीने टावर वैगन से ट्रॉयल किया गया था, जो सफल रहा था। कुछेक छिटपुट खामियां थी, उन्हें दुरुस्त किया गया। इसके बाद सीआरएस के लिए पूर्वोत्तर रेलवे, लखनऊ मंडल के रेल अधिकारियों ने ट्रैक का निरीक्षण किया था। 23 दिसंबर को सीआरएस की तारीख मिलने के बाद मंगलवार को आरबीएनल के प्रिंसिपल ईडी दिनेश पांडेय ने सीतापुर से लखीमपुर तक रेल ट्रैक का निरीक्षण किया था। आरबीएनएल के प्रबंधक जगन्नाथ मिश्रा ने बताया कि बुधवार को रेल संरक्षा आयुक्त लतीफ अहमद, प्रमुख विद्युत इंजीनियर एके शुक्ला, डीआरएम गोरखपुर डॉ. मोनिका अग्निहोत्री समेत रेलवे के कई बड़े अफसर स्पेशल ट्रेन से सुबह करीब 10:20 बजे सीतापुर जंक्शन पहुंचे। यहां से रेलवे के सभी अफसर रेल ट्रैक का निरीक्षण करते हुए स्पेशल ट्रेन से सवा तीन बजे के करीब लखीमपुर पहुंचे।

लखीमपुर खीरी में रेलवे स्टेशन, ओवर ब्रिज, फुट ओवर ब्रिज, रेलवे रिले रूम, यार्ड, अर्थ फाल्ट, इंसोलेटर ओवर लेप, स्विच फार मेन लाइन, आइसोलेटर, ऑटो टेंशन डिवाइस आदि का बारीकी से निरीक्षण किया। इसके बाद डीआरएम ने इलेक्ट्रिक इंजन का विधि विधान से पूजन किया। इसके बाद सीआरएस सहित पूरी टीम स्पीड ट्रायल के लिए रनथ्रू सीतापुर के लिए रवाना हुई।

इस दौरान रास्ते में पड़ने वाले झरेखापुर, हरगांव, ओयल समेत कई स्थानों पर रेलवे के अफसरों ने बारीकी से निरीक्षण किया। कराए गए कार्यों की गुणवत्ता परखी। इस दौरान पूर्व सांसद जफर अली नकवी के प्रतिनिधि एवं भारतीय किसान यूनियन के सदस्यों ने डीआरएम को ट्रेन संचालन शुरू कराने के लिए ज्ञापन भी सौंपा।

सीआरएस की रिपोर्ट देंगे पूर्वोत्तर रेलवे को
रेलवे के जानकारों का कहना है कि सीतापुर-लखीमपुर ट्रैक का सीआरएस करने के बाद रेल संरक्षा आयुक्त लिखापढ़ी में अपनी रिपोर्ट दो से चार दिन में पूर्वोत्तर रेलवे को देंगे। आरबीएनएल के प्रबंधक जगन्नाथ मिश्रा का कहना है कि रिपोर्ट देने के बाद इस रूट पर ट्रेन कब से दौड़ाई जाएंगी, ये रेलवे तय करेगा।

सीतापुर लखीमपुर रेलखंड का विद्युतीकरण कार्य पूरा होने के बाद रेल संरक्षा आयुक्त ने निरीक्षण किया है। इलेक्ट्रिक ट्रेन संचालन शुरू होना अभी है। फिलहाल डीजल ट्रेन संचालन के लिए रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव भेजा गया है। अनुमति मिलने के बाद ही ट्रेन चल सकेगी।
-डॉ. मोनिका अग्निहोत्री मंडल रेल प्रबंधक पूर्वोत्तर रेलवे

Most Popular