HomeलखनऊLucknow news- अमृत महोत्सव : एक भारत श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना को...

Lucknow news- अमृत महोत्सव : एक भारत श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना को साकार करने में हर नागरिक का योगदान ज़रूरी : योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2022 देश की आजादी के अमृत महोत्सव का है। इस वर्ष हमें 25 वर्ष की उस कार्य योजना को भी साथ लेकर चलना होगा कि जब 2047 में भारत अपनी स्वतंत्रता के 100 वर्ष मना रहा होगा। उसकी उपलब्धियां भी उस एतिहासिक क्षण के अनुरूप हो। अगर हर नागरिक अपने कर्तव्यों का ईमानदारी से निर्वहन करेगा तो हम दुनिया में भारत को एक महान देश के रूप में स्थापित कर सकेंगे तथा एक भारत श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना को साकार कर सकेंगे।

आजादी की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर सीएम योगी  ने शुक्रवार को राजधानी के काकोरी शहीद स्थल पर अमृत महोत्सव का शुभारंभ किया। पीएम नरेंद्र मोदी ने अहमदाबाद के साबरमती आश्रम में अमृत महोत्सव के साथ ही दांडी मार्च की 75वीं वर्षगांठ के समारोह की शुरुआत की। मुख्यमंत्री ने काकोरी में शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए देश की आजादी में उनके बेहद अहम योगदान पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी वर्चुअल माध्यम से जुड़े थे।

 योगी आदित्यनाथ ने प्रदेशवासियों से अपने कार्य क्षेत्र में ईमानदारी से कर्तव्यों का निर्वहन करने की अपील करते हुए कहा कि 25 वर्ष की उस कार्ययोजना को मूर्त रूप दें, जिससे कि वर्ष 2047 में एक भारत, श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना साकार हो सके। देश की स्वतंत्रता आंदोलन के नायक राम प्रसाद बिस्मिल, राजेंद्र नाथ लाहिड़ी, चंद्रशेखर आजाद, रोशन सिंह, अशफाकउल्ला खां को अपने श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि इन महान क्रांतिकारियों के जीवन का लक्ष्य ही देश की स्वाधीनता थी। उस समय जब भारत की जनता के पैसे का इस्तेमाल भारतीयों के दमन के लिए किया जा रहा था, तब आजादी के इन मतवालों ने काकोरी कांड को अंजाम देकर अंग्रेजी हुकूमत को चुनौती दी थी।

योगी ने कहा कि 12 मार्च 1930 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नेतृत्व में देश की आजादी के दीवानों ने अंग्रेजों के विरोध का बिगुल बजाया था। आज देश के पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात के दांडी से आजादी के दीवानों को नमन किया है। उत्तर प्रदेश में भी चार स्थान पर आजादी का अमृत महोत्सव चल रहा है। आजादी का अमृत महोत्सव 75 सप्ताह चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि 4 फरवरी 1922 को चौरी चौरा की घटना घटी थी। हम लोग आज उस घटना ने नायकों को नमन कर रहे हैं। आज देश में 75 जगहों पर अमर शहीदों को नमन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि अमृत महोत्सव के शुभारंभ के मौके पर लखनऊ के अलावा मेरठ, झांसी और बलिया में भी ऐसे ही कार्यक्रम आयोजित हो रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने काकोरी शहीद स्मारक स्थल का निरीक्षण किया और काकोरी कांड के अमर शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित की। इस अवसर पर पुलिस बैंड ने ‘कदम कदम बढ़ाए जा’ और ‘सारे जहां से अच्छा हिंदोस्तां हमारा’ जैसे देशभक्ति के गीतों की धुन बजाईं। काकोरी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम में सीएम योगी के साथ मंत्री ब्रजेश पाठक, डॉ. महेंद्र सिंह व आशुतोष टंडन भी मौजूद थे।

Most Popular