Home लखनऊ Lucknow news- एमआईएस चौराहे पर तड़तड़ाईं गोलियां, इलाके में दहशत

Lucknow news- एमआईएस चौराहे पर तड़तड़ाईं गोलियां, इलाके में दहशत

लखनऊ के राजाजीपुरम के एमआईएस चौराहे पर मंगलवार सुबह ताबड़तोड़ कई राउंड फायरिंग से इलाका दहशत में आ गया। बाइक सवार बदमाशों ने एसयूवी सवार प्रॉपर्टी डीलर को निशाना बनाकर फायरिंग की। प्रॉपर्टी डीलर के साथी ने भी गोलियां चलाईं। पुलिस ने कारतूस बरामद करने के बाद प्रॉपर्टी डीलर की तहरीर पर केस दर्ज कर लिया। आरोपियों की तलाश जारी है। पुलिस के मुताबिक दुकान पर कब्जेदारी के विवाद में फायरिंग हुई है।

राजाजीपुरम सी ब्लॉक निवासी प्रॉपर्टी डीलर रणजीत यादव दोस्त ई-ब्लॉक के सत्यम पांडेय के साथ सदर तहसील जा रहा था। इस दौरान एमआईएस चौराहे पर पुलिस बूथ से चंद कदमों पर उमेश की जूस की दुकान के सामने बाइक सवार दो बदमाशों ने उसे निशाना बनाकर दो राउंड गोलियां चलाईं। हालांकि, दोनों बाल-बाल बच गए। स्थानीय लोगों के मुताबिक रणजीत पर फायरिंग हुई तो सत्यम ने अपनी लाइसेंसी रिवॉल्वर से तीन राउंड फायरिंग की। इस पर बदमाश पुलिस बूथ की तरफ भाग निकले। पांच राउंड फायरिंग से दहशत फैल गई। लोग घरों से निकल आए। भीड़ जुटी तो खुद रणजीत ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। पुलिस ने तीन खोखे बरामद किए।

विधायक लिखी एसयूवी से चलता है प्रॉपर्टी डीलर

रणजीत एसयूवी पर विधायक का स्टीकर लगाकर चलता है। सोशल मीडिया पर इसकी तस्वीर वायरल होने पर पुलिस ने चालान काट दिया है। पुलिस के मुताबिक रणजीत पूर्वांचल के बाहुबली पूर्व विधायक व राज्यमंत्री (फिलहाल हाईप्रोफाइल महिला की हत्या में जेल में बंद) के बेटे और निर्दलीय विधायक का करीबी है। इस कारण उसने गाड़ी पर सदस्य विधानसभा लिखा रखा था। पुलिस निर्दलीय विधायक व रणजीत के रिश्तों की कड़ी भी खंगाल रही है।
प्रॉपर्टी डीलर पर दर्ज है हत्या के प्रयास का केस
प्रभारी निरीक्षक तालकटोरा धनंजय सिंह के मुताबिक रणजीत यादव पर हत्या के प्रयास का मुकदमा है। रणजीत व ई-ब्लॉक निवासी विकास चतुर्वेदी के बीच 21 मई 2018 को सेक्टर-12 में बिस्मिल पार्क के पास विवाद हुआ था। इसमें रणजीत के फायरिंग करने से विकास गंभीर रूप से घायल हुआ था। उसकी मां सरिता चतुर्वेदी ने रणजीत के खिलाफ केस कराया था। इस मामले में रणजीत जमानत पर है।

Most Popular