Home लखनऊ Lucknow news- कोरोना टीके की फीस वसूलेगी भाजपा, बीमार स्वास्थ्य सेवाओं में...

Lucknow news- कोरोना टीके की फीस वसूलेगी भाजपा, बीमार स्वास्थ्य सेवाओं में यूपी नंबर वन : अखिलेश

सपा अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि बुनियादी मुद्दों से भटकाने में भाजपा सरकार का कोई जवाब नहीं है। नीति आयोग की रिपोर्ट में बीमार स्वास्थ्य सेवाओं में उत्तर प्रदेश नंबर एक पर है। चार साल की भाजपा सरकार में यूपी का हेल्थ इंडेक्स स्कोर 5.08 प्वाइंट गिरकर 2015-16 के 33.69 प्वाइंट से गिरकर 28.61 प्वाइंट पर आ गया है। भुखमरी में भी यूपी भाजपा राज में नंबर एक पर गिना जाने लगा है।

अखिलेश ने भाजपा कोरोना संकट के नियंत्रण में अपने काम का लेखा-जोखा पेश करते हुए खुद को ही शाबासी दे देती है लेकिन यह कौन भूलेगा कि कोरोना ग्रस्त लोगों के साथ किस तरह का दुर्व्यवहार किया गया। पीड़ितों से मनमानी रकम वसूली गई। भाजपा सरकार इस विपत्ति से बचाव के नाम पर टीका लगाने के लिए फीस तय कर रही है। बिहार में मुफ्त टीका का एलान करने वाली भाजपा ने यूपी में जनता को मुफ्त टीका की सुविधा नहीं देने वाली है।

अखिलेश यादव ने रविवार को बयान में कहा कि खुद केंद्र सरकार के संस्थान प्रदेश की भाजपा सरकार को हर मोर्चे पर विफल होने का तमगा दे रहे हैं। लेकिन, मुख्यमंत्री हैं कि अपनी प्रशंसा खुद ही करने लगते हैं। जाने कहां से कौन-कौन से प्रशस्ति पत्र ले आते हैं। वास्तविकता यह है कि प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गई हैं। सपा सरकार के समय स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार के जो कदम उठाए गए थे, रागद्वेष से भरी भाजपा सरकार ने उन्हें भी चौपट कर दिया है। सच तो यह है कि भाजपा सरकार की आयुष्मान योजना के लाभार्थी अस्पतालों में टरकाए जाते हैं। गरीब की कहीं पूछ नहीं होती है। प्रधानमंत्री जनऔषधि केंद्रों का बड़ा शोर था, अब ये जगह-जगह बंद पड़े हैं। जहां खुले हैं वहां दवाइयों का अभाव है।

भर्ती रुकीं, रोजगार के झूठे आंकड़े

सपा अध्यक्ष ने कहा, अस्पतालों में डाक्टरों व पैरा मेडिकल स्टाफ  की भारी कमी है। उनकी भर्ती रुकी हुई है। भाजपा सरकार रोजगार के झूठे आंकड़े और आश्वासन देती है। भाजपा राज में न मेडिकल कालेज खुले, न ही एम्स बने। बीमारों व घायलों को अस्पताल ले जाने के लिए सपा सरकार ने 108 समाजवाद एंबुलेंस सेवा शुरू की थी। यह सेवा बदहाल है। गंभीर बीमारों को भी इलाज नहीं मिल रहा है। सपा सरकार में गंभीर असाध्य रोगों, किडनी, लीवर, हृदय व कैंसर से ग्रसित निर्धन वर्ग के लोगों के लिए मुफ्त इलाज की सुविधा उपलब्ध कराई गई थी। बीपीएल कार्ड धारकों का समस्त उपचार व परीक्षण निशुल्क किया जा रहा था। रोगियों का भर्ती शुल्क माफ  कर दिया गया था।

Most Popular