Home लखनऊ Lucknow news- जेल अस्पताल में बंदी पर हमले की जांच डीआईआई को...

Lucknow news- जेल अस्पताल में बंदी पर हमले की जांच डीआईआई को सौंपी

जेल अस्पताल में भर्ती बंदी की रुपये देने से मना करने पर दूसरे दबंग बंदी ने उसकी रॉड से पिटाई कर दी थी। इस मामले की जांच डीआईजी जेल संजीव त्रिपाठी को सौंपी गई है। डीजी जेल आनंद कुमार के निर्देश पर डीआईजी ने जिला जेल पहुंचकर जांच शुरू कर दी है। उन्होंने जेल अधिकारियों के अलावा बंदियों के बयान दर्ज किए। डीआईजी ने पीड़ित बंदी से मिलकर उससे घटना की जानकारी ली। उन्हे बंदी के शरीर पर चोट के निशान भी मिले। जेल अस्पताल के एंजरी रजिस्टर पर डाक्टर द्वारा दर्ज की गई चोटों की भी जानकारी ली। इसके अलावा जांच अधिकारी ने अस्पताल में भर्ती अन्य बंदियों के भी बयान दर्ज किए।

मालूम हो कि शनिवार को जिला जेल के अस्पताल में भर्ती अंशुमान पांडेय पर रुपये देने से मना करने पर उसी के साथ बंद दबंग बंदी सईद ने बेड के पास रखे ग्लूकोज चढ़ाने वाले स्टैंड के लोहे की रॉड से हमला कर दिया था। जिसमे अंशुमान को कई चोटें आयी थी। बंदी अंशुमान की माँ ने मंगलवार को कारागार मुख्यालय मे डीजी आनंद कुमार से मिलकर मामले की शिकायत की। बंदी की मां का आरोप है कि बेटे को जेल भिजवाने विरोधी उनके बेटे की जेल में हत्या कराने का षडयंत्र रच रहे हैं। जिसमें कुछ जेल अधिकारी भी शामिल हैं। आरोप है कि षडयंत्र के तहत ही बेटे पर जेल मे हमला कराया गया है। माँ का आरोप है जेल अधीक्षक भी विरोधियों से मिले हैं। आरोप है कि बेटे पर हमला होने की घटना से करीब तीन घण्टे पहले एक जेल अधिकारी ने अंशुमान की स्वंय लाठी से पीटा था। फिलहाल डीजी के निर्देश पर डीआईजी ने जांच शुरू कर दी है।

जांच के बाद स्पष्ट होगा

प्रारंभिक जांच में दोनों के बीच मारपीट होने की बात सामने आई है जिसमे बंदी अंशुमान की जांघ पर चोट के निशान हैं। मामले की जांच की जा रही है। मारपीट का कारण जांच पूरी होने पर स्पष्ट होगा।
-संजीव त्रिपाठी, डीआईजी

Most Popular