Home लखनऊ Lucknow news- डीजल व पेट्रोल के अवैध कारोबार का पर्दाफाश, १२ पकड़े...

Lucknow news- डीजल व पेट्रोल के अवैध कारोबार का पर्दाफाश, १२ पकड़े गए

बंथरा थाना क्षेत्र में कई सालों से चल रहे अवैध डीजल व पेट्रोल का कारोबार करने वाले गिरोह का पर्दाफाश बुधवार सुबह क्राइम ब्रांच की टीम ने करते हुए 12 लोगों को दबोचा। वहीं प्रभारी निरीक्षक ने इस तरह के गिरोह के पकड़े जाने से इनकार किया है। हालांकि डीसीपी मध्य ने इसकी पुष्टि की। डीसीपी के मुताबिक, जिलाधिकारी से केस दर्ज करने के लिए अनुमति ली जा रही है, आपूर्ति विभाग की रिपोर्ट आने के बाद आगे कार्रवाई की जाएगी।

बंथरा थानाक्षेत्र में सात से अधिक स्थानों पर अवैध डीजल, पेट्रोल व एथनॉल का कारोबार होता है। इसकी जानकारी स्थानीय थाने की पुलिस को है। लेकिन पुलिस ने इन पर कार्रवाई करने के लिए कोई कोशिश नहीं की। इसकी जानकारी उच्चाधिकारियों को स्थानीय नागरिकों ने दी। गोपनीय तरीके से क्राइम ब्रांच की टीम ने छापा डाला। बुधवार सुबह इस अवैध कारोबार से जुडे़ 12 लोगों को टीम ने दबोच लिया। वहीं मौके से टीम ने 700 लीटर डीजल, 400 लीटर पेट्रोल व दो ड्रम एथेनॉल बरामद किया है। सभी आरोपियों को पहले थाने लाया गया। वहां पूछताछ की गई। इसके बाद क्राइम ब्रांच की टीम अपने साथ सभी आरोपियों को लेकर चली गई।

जिला आपूर्ति की टीम ने शुरू की जांच

डीसीपी मध्य सोमेन वर्मा के मुताबिक, टीम ने जो डीजल, पेट्रोल व एथनॉल बरामद किया है। उसमें मिलावट किए जाने की सूचना दी गई थी। इसकी जांच के लिए जिला आपूर्ति विभाग की टीम को बुलाया गया था। टीम ने नमूना ले लिया है। बृहस्पतिवार तक रिपोर्ट आएगी। इसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। वहीं डीसीपी सोमेन वर्मा ने बताया कि अवैध तरीके से डीजल व पेट्रोल का कारोबार करने वाले गिरोह के सदस्यों को विशेष टीम ने पकड़ा है। इस मामले में मुकदमा दर्ज करने के लिए जिलाधिकारी से अनुमति मांगी गई है। जिलाधिकारी कार्यालय से आदेश आने के बाद मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
स्थानीय पुलिस पर संरक्षण देने का आरोप
स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया है कि बंथरा थाने की पुलिस को इस मिलावट व अवैध कारोबार के बारे में पूरी जानकारी है। उसके संरक्षण से ही यह अवैध कारोबार संचालित हो रहा है। प्रभारी निरीक्षक इस अवैध कारोबार से जुड़े लोगों के पकड़े जाने की बात को देर शाम तक छिपाते रहे। उन्होंने साफ शब्दों में इस तरह की किसी भी कार्रवाई से इंकार कर दिया। हालांकि डीसीपी मध्य ने छापे की बात की पुष्टि की।

Most Popular