Home लखनऊ Lucknow news- बलरामपुर: उड़ते-उड़ते घर के आंगन में गिरा बाज, तड़पकर मौत

Lucknow news- बलरामपुर: उड़ते-उड़ते घर के आंगन में गिरा बाज, तड़पकर मौत

बलरामपुर जिले के गैसड़ी बाजार इलाके में रहने वाले नसीम अहमद के घर रविवार सुबह करीब 10 बजे एक बाज आंगन में गिरा और कुछ देर तक तड़पने के बाद उसकी मौत हो गई। जिससे घर में मौजूद परिजनों में अफरा-तफरी मच गई।

नसीम जिला व्यापार मंडल के अध्यक्ष हैं। वह बताते हैं कि रविवार सुबह एक बाज अचानक घर के आंगन में आकर गिरा। थोड़ी देर तड़पता रहा फिर उसकी मौत हो गई।

हालांकि, बर्ड फ्लू की जानकारी होने के कारण परिजन उसके नजदीक नहीं गए। नसीम ने इसकी सूचना गैसड़ी कोतवाली प्रभारी निरीक्षक एवं पशु चिकित्सक अधीक्षक आरके सिंह को दी। आरके सिंह मौके पर पहुंचे और पक्षी का सैंपल लिया जिसे जांच के लिए भोपाल भेजा जाएगा।

बता दें कि अमेठी में भी ऐसी घटनाएं हुईं। संग्रामपुर थाना क्षेत्र के सरैया कनू गांव में तीन कौए मृत पाए गए जिससे ग्रामीणों में हड़कंप मच गया।

दरअसल प्रदेश में बर्ड फ्लू की दस्तक के बाद लगातार इस तरह की घटनाएं हो रही हैं जब पक्षी उड़ते-उड़ते आसमान से गिर रहे हैं और उनकी मौत हो जा रही है।

प्रदेश में बना दहशत का माहौल

कानपुर में बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद यूपी के कई जिलों में पक्षियों की मौत से प्रदेश में दहशत का माहौल बन गया है। कानपुर के घाटमपुर में जहां 20 से अधिक कौवे मृत मिले हैं, वहीं बिजनौर में 38 कबूतर और सात कौवे मृत पाए गए हैं। अयोध्या में भी तीन पक्षी मृत मिले तो बाराबंकी में दो पोल्ट्री फार्म में मुर्गों के नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं।

पशुपालन विभाग के निदेशक (रोग नियंत्रक एंव प्रक्षेत्र) डॉ. रामपाल सिंह ने बताया कि जिलों में रैपिड रिस्पांस टीम गठित की जा रही है। स्वास्थ्य, वन, ग्राम्य विकास, पंचायतीराज विभाग व प्रशासनिक अधिकारियों से समन्वय किया जा रहा है।

कृषि उत्पादन आयुक्त व प्रमुख सचिव पशुधन खुद तैयारियों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उबला हुआ अंडा व चिकन खाने से बर्ड फ्लू का खतरा नहीं है। 70 डिग्री सेंटीग्रेड पर वायरस नष्ट हो जाता है। कानपुर के अलावा किसी अन्य स्थान पर भी बीमारी की पुष्टि नहीं हुई है।

आगे पढ़ें

प्रदेश में बना दहशत का माहौल

source url

Most Popular