HomeलखनऊLucknow news - बाराबंकी कोर्ट में माफिया की पेशी आज: बांदा जेल...

Lucknow news – बाराबंकी कोर्ट में माफिया की पेशी आज: बांदा जेल में बंद मुख्तार अंसारी ऑनलाइन लगाएगा हाजिरी; फर्जी दस्तावेजों से एंबुलेंस का रजिस्ट्रेशन कराने में साजिश रचने का आरोप

फर्जी दस्तावेज के आधार पर बाराबंकी एआरटीओ में मुख्तार के गुर्गों ने 2013 में एंबुलेंस रजिस्टर्ड कराई थी।

उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में बंद बाहुबली विधायक माफिया मुख्तार अंसारी की आज यानी सोमवार को बाराबंकी कोर्ट में पेशी होनी है। मुख्तार ऑनलाइन बाराबंकी कोर्ट में हाजिरी लगाएगा। कोर्ट ने फर्जी दस्तावेजों से एंबुलेंस के रजिस्ट्रेशन मामले में 14 जून को कोर्ट में तलब किया था। इसके लिए प्रभारी मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी नंद कुमार ने वारंट जारी किया था। कोर्ट में पुलिस ने बताया था कि एंबुलेंस मामले में फर्जी पते से पंजीकरण में मुख्तार अंसारी की संलिप्तता सही है।

एंबुलेंस केस में फरार चल रहे मुख्तार के प्रतिनिधि सहित दो की तलाश में पुलिस टीम मऊ पहुंची है। विधायक प्रतिनिधि मोहम्मद सुहैब मुजाहिद, आनंद यादव और शाहिद की तलाश की जा रही है। बाराबंकी पुलिस की टीम तीनों की तलाश में मऊ सहित कई स्थानों पर दबिश दे रही है। कहा जा रहा है कि इन तीनों की गिरफ्तारी के बाद बाराबंकी में मुख्तार के नेटवर्क को लेकर कई बड़े खुलासे हो सकते हैं।

मुख्तार ने कबूल की थी साजिश की बातमुख्तार ने पुलिस को अपने दिए गए बयान में ये स्वीकार किया था कि उसकी साजिश से ही बाराबंकी में एंबुलेंस की खरीद और रजिस्ट्रेशन कराया गया था। इससे पहले कोर्ट से आदेश मिलने के बाद बाराबंकी एसपी द्वारा गठित एसआईटी ने 25 मई को बांदा जेल पहुंचकर दो दिन पूछताछ की थी। मुख्तार इस समय बांदा की जेल में बंद है।

2013 में रजिस्टर्ड कराई थी एंबुलेंसफर्जी दस्तावेज के आधार पर बाराबंकी एआरटीओ में मुख्तार के गुर्गों ने 2013 में एंबुलेंस रजिस्टर्ड कराई थी। मुख्तार अंसारी को पंजाब जेल से 31 मार्च को मोहाली कोर्ट तक पेशी पर लाने और वापस ले जाने में यूपी 41 नंबर की एंबुलेंस का प्रयोग किया गया था।

इतना ही नहीं, पुलिस ने इसी मामले में एक अप्रैल को कोतवाली नगर में मऊ की संजीवनी हॉस्पिटल संचालिका डॉ. अलका राय के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। इस केस की विवेचना में अलका राय के सहयोगी डा. शेषनाथ राय, मुजाहिद को भी साजिश का आरोपी बनाया गया था। इसके अलावा शाहिद, आनंद यादव, राजनाथ यादव सहित मुख्तार अंसारी को भी इसी केस में किया नामजद किया गया था। मुख्तार के गुर्गे राजनाथ यादव के बाद डॉ. अलका और शेष नाथ राय को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है।

खबरें और भी हैं…

Most Popular