HomeलखनऊLucknow news - महामारी के महापापी: कोविड मरीजों की मौत के बाद...

Lucknow news – महामारी के महापापी: कोविड मरीजों की मौत के बाद उनका मोबाइल चुरा लेते थे अस्पताल के कर्मचारी, 2 आरोपी हिरासत में लिए गए

परिजनों की शिकायत के बाद पुलिस की जांच में हुआ इस घिनौने काम का खुलासा

उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के कहर से आए दिन लोग अपनो को खो रहे हैं लेकिन समाज में कुछ ऐसे लोग छिपे हुए हैं जो इसका गलत फायदा उठाने से नहीं चूक रहे हैं। ऐसा ही एक मामला बाराबंकी में सामने आई है। बताया जा रहा है कि यहां कोविड मरीजों की मौत के बाद हास्पिटल में उनका मोबाइल चोरी कर लिया जाता था। जब जांच हुई तो पता चला कि मोबाइल चोरी कोई और नहीं बल्कि हॉस्पिटल के कर्मचारी ही करते थे। परिजनों ने जब इसकी शिकायत की तो मामला खुलकर सामने आ गया।

पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को पकड़ा

इस मामले में पुलिस ने एक पुरुष और एक महिला चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को गिरफ्तार किया है। इन कर्मचारियों ने बताया कि अपना मोबाइल फोन चार्जिंग के लिए मरीज हमें देते थे और अगर मरीजों की मृत्यु हो जाती थी तो वह मोबाइल अपने पास ही रख लेते थे।

दरअसल अपने इलाज के दौरान कोरोना मरीज अपने मोबाइल की बैट्री चार्ज करने के लिए अस्पताल के कर्मचारियों को दे देते थे। अस्पताल के कर्मचारी कोरोना मरीजों का मोबाइल चार्ज करके उन्हें वापस देते थे। लेकिन इसी बीच अगर किसी कोरोना मरीज की मौत हो जाती थी तो यह कर्मचारी उनका मोबाइल पार कर देते थे।

मेयो अस्पताल में सामने आया मामला

पूरा मामला नगर कोतवाली क्षेत्र के मेयो हॉस्पिटल का है। जहां दो मृतकों के परिजनों ने मोबाइल फोन चोरी होने की शिकायत पुलिस से की थी। पुलिस ने अस्पताल में काम करने वाले एक पुरुष और एक महिला कर्मचारी को इस मामले में अब गिरफ्तार किया है।

इस मामले में बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कि बीते दिनों मेयो हॉस्पिटल में कोरोना के चलते दो मरीजों की मौत हुई थी। उनके परिजनों ने पुलिस से शिकायत की थी कि उनके मरीज के सामान के साथ उनका मोबाइल फोन नहीं दिया गया है। मोबाइल फोन गायब है। इस पर पुलिस ने जांच की और मेयो हॉस्पिटल के दो कर्मचारियों को गिरफ्तार कर मोबाइल बरामद किया है। इन दोनों के खिलाफ आगे की विधिक कार्रवाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं…

Most Popular