HomeलखनऊLucknow news- यूपी में 1032, लखनऊ में 347 नए केस, 6 की...

Lucknow news- यूपी में 1032, लखनऊ में 347 नए केस, 6 की मौत, सचिवालय, माध्यमिक के 28 कर्मचारी संक्रमित, दफ्तर सील

यूपी में कोरोना का संक्रमण फिर हजार के पार पहुंच गया है। शुक्रवार को 1032 नए संक्रमित मिले। इनमें सर्वाधिक 347 मरीज लखनऊ से हैं। प्रदेश में 6 और मरीजों की मौत हो गई। इनमें से दो लखनऊ के हैं। शुकवार को सचिवालय और माध्यमिक शिक्षा निदेशालय के 28 कर्मचारियों केसंक्रमित मिलने के बाद हड़कंप मच गया। दफ्तर सील कर दिया गया है।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार सचिवालय में स्थित खाद्य एवं रसद विभाग में 13 कर्मचारी संक्रमित मिले। वहीं, माध्यमिक शिक्षा निदेशालय में 15 अधिकारी-कर्मचारी पॉजिटिव पाए गए हैं। एक साथ इतनी बड़ी संख्या में संक्रमित मिलने के बाद निदेशालय बंद करके संक्रमितों के संपर्क में आने वाले लोगों की भी जांच कराई जा रही है।

प्रदेश में 30 फीसदी संक्रमित अकेले लखनऊ से

प्रदेश में शुक्रवार को मिले संक्रमितों में से करीब 30 फीसदी मरीज लखनऊ से हैं। बाकी 70 फीसदी मरीज अन्य 68 जिलों में मिले हैं। छह जिले ऐसे भी रहे, जहां एक भी नया मरीज नहीं मिला है।

डफरिन अस्पताल के डॉक्टर समेत दस लोगों का स्टाफ पॉजिटिव

डफरिन अस्पताल में कार्यरत डॉक्टर व स्टॉफ कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लेने बाद भी पॉजिटिव हो गए। दो डॉक्टर समेत दस लोग का स्टॉफ पॉजिटिव आया है। इससे अस्पताल में हड़कंप मचा हुआ है। नौ लोगों को एक माह पहले दोनों डोज लग चुकी हैं। जबकि एक कर्मचारी को वैक्सीन की पहली डोज लगी है। पूरे मामले की रिपोर्ट अस्पताल प्रशासन ने सीएमओ को भेजी है।

डफरिन अस्पताल में कार्यरत दो डॉक्टर, दो लैब टेक्नीशियन, एक एक्सरे टेक्नीशियन, तीन सिक्योरिटी गार्ड, एक लिपिक और एक वार्ड आया में वायरस की पुष्टि हुई है। इससे अस्पताल में अफरातफरी मची हुई है। अफसरों का कहना है कि दो दिन पहले एक गर्भवती महिला को भर्ती कराया गया। एंटीजेन जांच हुई। रिपोर्ट नेगेटिव आई। आरटीपीसीआर की जांच के लिए नमूना भेज दिया गया। बुधवार को ऑपरेशन से प्रसव हुआ। शाम को महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इससे अस्पताल में हड़कंप मच गया। डीएम के निर्देश पर गुरुवार को सीएमओ आफिस से आई टीम ने सभी कर्मचारियों की एंटीजेन से जांच कराई। इसमें दस लोग पॉजिटिव आ गए। इस पूरे मामले की रिपोर्ट अस्पताल प्रशासन ने सीएमओ को भेजी है। अस्पताल में तैनात 326 में 234 की एंटीजेंन जांच हुई। अस्पताल प्रमुख डॉ. सुधा वर्मा के मुताबिक, नौ लोगों को एक माह पहले वैक्सीन लग चुकी थी। जबकि एक कर्मचारी ने पहली डोज ली। बताया पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आए 40 लोगों के नमूने लेकर दोबारा आरटीपीसीआर जांच के लिए भेजे गए हैं।

बाराबंकी में कोरोना के केस बढ़े, 15 और मिले पॉजिटिव
कोरोना के लगातार केस बढ़ते जा रहे हैं। शुक्रवार को एक दिन में सबसे ज्यादा 15 कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद विभाग में हड़कंप मच गया है। सूचना मिलते ही आननफानन में चिकित्सकों की टीम मौके पर भेज संक्रमितों को होम आइसोलेट करा दिया गया है। इसके साथ ही कोरोना प्रोटोकॉल के तहत कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

शुक्रवार देर शाम आई जांच रिपोर्ट के अनुसार जिले में 15 और कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इसमें सूरतगंज के शेखपुर और निकट रेलवे स्टेशन के पास दो-दो, दरियाबाद के महाबरपुरवा, बंकी के माती मुरादाबाद, त्रिवेदीगंज, सिद्धौर के पूरेजुगराज, रामनगर, परशुरामपुर, पल्हरी, चक बडागांव, कमरखा, मथुरानगर, ओबरी में एक-एक कोरोना पॉजिटिव शामिल हैं। जिले में एक साथ 15 पॉजिटिव पाए जाने के बाद हड़कंप मच गया है। क्योंकि मार्च में एक साथ इतने ज्यादा केस पहली बार मिले हैं। जांच रिपोर्ट आने के बाद पहुंची चिकित्सकों की टीम ने सभी को होम आइसोलेशन में रखा है। इसके साथ ही इन इलाकों में कोविड प्रोटोकॉल के तहत कार्रवाई शुरू कर दी गई है। इन लोगों के संपर्क में आने वालों की ट्रेसिंग की जा रही है। जिससे की संक्रमण के फैलाव पर पूरी तरह से रोक लगाई जा सके। इसके बाद भी लोग सुधर नहीं रहे हैं और बाजार में दिन ब दिन लोगों की भीड़ बढ़ती ही जा रही है। सीएमओ डॉ. बीकेएस चौहान ने 15 और कोरोना पॉजिटिव मिलने की पुष्टि की है।

पूर्वोत्तर रेलवे डीआरएम दफ्तर सील

पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल का हजरतगंज स्थित डीआरएम दफ्तर शुक्रवार को सील कर दिया गया। ऐसा कोरोना संक्रमितों के मिलने की वजह से किया गया है। दफ्तर को सेनेटाइज वगैरह किया जाएगा, जिसके बाद ही इसे खोले जाने की उम्मीद जताई जा रही है।

दरअसल, पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल का डीआरएम कार्यालय श्रीराम टावर के सामने है। यहां दो रेलवे अधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग, जिला प्रशासन की टीमों ने शुक्रवार को डीआरएम कार्यालय पहुंचकर उसे सील कर दिया। इसकेअलावा रेलकर्मियों को घर पर ही रहने की हिदायत दी गई है तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने केनिर्देश दिए गए हैं। हालांकि, शुक्रवार को दफ्तर सील होने के बाद रुटीन कामकाज फिलहाल प्रभावित नहीं होगा, जिसकी वजह यह है कि शनिवार को डीआरएम दफ्तर बंद रहता है। इसकेबाद रविवार है और फिर सोमवार को होली की छुट्टी है। ऐसे में इन तीन दिनों में दफ्तर का सेनेटाइजेशन वगैरह भी किया जाने की उम्मीद जताई जा रही है।

आरडीएसओ कार्यालय व कॉलोनी में प्रवेश रोका
एक ओर उत्तर रेलवे के थर्मिट पोर्शन प्लांट में बारह से अधिक रेलकर्मियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से हड़कम्प मचा हुआ था, वहीं शुक्रवार को पूर्वोत्तर रेलवे डीआरएम दफ्तर को कोरोना संक्रमित मिलने की वजह से सील कर दिया गया। इसी क्रम में आरडीएसओ कार्यालय में भी फिलहाल प्रवेश रोक दिया गया है और कॉलोनी में आवाजाही रोकी गई है।

डफरिन अस्पताल के डॉक्टर समेत दस लोगों का स्टाफ पॉजिटिव

Most Popular