HomeलखनऊLucknow news - रेप पीड़िता ने किया था आत्मदाह का प्रयास: 24...

Lucknow news – रेप पीड़िता ने किया था आत्मदाह का प्रयास: 24 घंटे बाद पुलिस ने गैंगरेप के एक आरोपी को किया गिरफ्तार, 3 महीने पहले वारदात को दिया गया था अंजाम

तीन महीने पुराने दुष्कर्म के एक मामले में पीड़िता ने आत्महत्या करने का प्रयास किया था। जिसके बाद पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए एक आरोपी को पकड़ लिया है। - Dainik Bhaskar

तीन महीने पुराने दुष्कर्म के एक मामले में पीड़िता ने आत्महत्या करने का प्रयास किया था। जिसके बाद पुलिस ने मामले में कार्रवाई करते हुए एक आरोपी को पकड़ लिया है।

उत्तर प्रदेश के विधानभवन के गेट नंबर पांच के सामने बुधवार को आत्मदाह का प्रयास करने वाली रेप पीड़िता के केस में गुरुवार को सुलतानपुर पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया है। तीन माह पूर्व दर्ज हुए केस में गैंगरेप के आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने से आहत होकर रेप पीड़िता ने कल आत्मदाह की कोशिश की थी लेकिन महिला सुरक्षाकर्मियों की सतर्कता से हादसा होने से टल गया था।

जानकारी के अनुसार, बुधवार को सुल्तानपुर के दोस्तपुर थाना क्षेत्र के एक गांव की एक रेप पीड़िता लखनऊ विधानभवन के गेट नंबर पांच के सामने केरोसिन से भरी बोतल लेकर पहुंची थी। उसने अपने शरीर पर उड़ेल ली थी। पीड़िता खुद को आग के हवाले करती वहां मौजूद महिला पुलिसकर्मियों ने उसे दबोच लिया था। जिससे बड़ी अनहोनी टाल गई थी।

शासन ने लिया मामले का संज्ञान

इस मामले में शासन ने संज्ञान लिया और कल ही सुलतानपुर के पुलिस अधिकारियों के शासन स्तर से पेंच कसे गए थे। इसके बाद से सुलतानपुर के पुलिस अधिकारियों ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की कई टीमें लगाई थीं। एसपी डॉ. अरविंद चतुर्वेदी ने आज मीडिया को बताया कि रेप के आरोपी राजू वर्मा को आज गिरफ्तार करके न्यायिक हिरासत में भेजा जा रहा है।

पीड़िता के अनुसार, 6 जनवरी को दोस्तपुर के रायपुर कटरिया निवासी राजू वर्मा और अजय ने उसके साथ रात 11 बजे उसे मुंह बंद कर उठा ले गए थे। दोनों ने उसके साथ जबरन गैंगरेप दुष्कर्म किया था। युवती के शोर मचाने पर ग्रामीणों ने मौके पर पहुंचकर आरोपी राजू वर्मा को मौके से पकड़कर डायल 112 पुलिस टीम को सौंपा था।

7 जनवरी को ही दर्ज हुआ था आरोपियों के खिलाफ मामला

पीड़िता ने बताया कि 7 जनवरी को ही दोनों आरोपियों के खिलाफ दोस्तपुर थाने में नामजद मुकदमा दर्ज किया गया था। इसके बावजूद न तो पकड़े गए आरोपी राजू वर्मा को जेल भेजा गया और न ही दूसरे आरोपी अजय की अब तक गिरफ्तारी हुई है। पीड़िता का कहना है कि आरोपी व उनके साथी एसिड अटैक और जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। सुल्तानपुर के पुलिस अधिकारियों से शिकायत पर भी सुनवाई न होने पर वह आत्मदाह करने विधानसभा के सामने पहुंची थी।

खबरें और भी हैं…

Most Popular