HomeलखनऊLucknow news - लगातार चौथे दिन टूटा संक्रमण का रिकॉर्ड: UP में...

Lucknow news – लगातार चौथे दिन टूटा संक्रमण का रिकॉर्ड: UP में 24 घंटे के भीतर 15,353 मरीज बढ़े; कोरोना की पहली डोज लगने के बाद ललितपुर में तैनात JE ने दम तोड़ा

रविवार को राजभवन में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल की अध्यक्षता में सर्वदलीय बैठक हुई। इस दौरान विपक्ष के नेताओं ने कोविड-19 की रोकथाम के लिए कई सुझाव दिए। कहा कि जनता का शोषण ना किया जाए। वैक्सीनेशन अभियान को लेकर विपक्षी दलों ने सरकार की तारीफ भी की।

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर हर दिन अपना रिकॉर्ड तोड़ रही है। रविवार को 24 घंटे के भीतर 15,353 नए मामले सामने आए। इसके बाद प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या 71,241 पहुंच गई है। जबकि 67 लोगों की मौत हुई है। मृतकों में ललितपुर जिले में बिजली विभाग में तैनात जूनियर इंजीनियर भी शामिल है। इंजीनियर को 8 अप्रैल को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगी थी। अब तक प्रदेश में 9,152 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। लखनऊ में सबसे अधिक 4,444 रोगी सामने आए हैं। यहां 31 संक्रमितों की जान गई। शनिवार को प्रदेश में 12,787 मरीज मिले थे।

राज्यपाल ने बुलाई सर्वदलीय बैठककोरोना के बढ़ते संक्रमण को लेकर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने रविवार की शाम राजभवन में सर्वदलीय बैठक बुलाई। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना वायरस का असर कुछ कम होने पर लापरवाही हर स्तर पर होने लगी थी। सभी ने मान लिया था कि कोरोना खत्म हो गया है। वैक्सीन आई तो लोग और निश्चिंत हो गए। हम सभी को पता है कि बीमारी के उपचार से महत्वपूर्ण बचाव व सावधानी है। सरकार अपने पूरे प्रयास में लगी है।

बैठक में बसपा के नेता लालजी वर्मा, कांग्रेस से विधायक सोहेल अख्तर पहुंचे थे। सभी ने कोविड महामारी से निपटने में योगी सरकार के प्रयासों की सराहना की और वर्तमान लहर से निपटने के लिए बेहतर प्रबंधन की अपेक्षा की। साथ ही महामारी को नियंत्रित करने में सरकार के सभी दिशा-निर्देशों का पूरा समर्थन करने का आश्वासन दिया। बैठक में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने सीएम की तारीफ की। कहा कि सीएम योगी ने सभी जिलों का दौरा किया, इतना दौरा कोई मुख्यमंत्री नहीं करता होगा।

बैठक में मौजूद मुख्यमंत्री व राज्यपाल आनंदीबेन पटेल।

बैठक में मौजूद मुख्यमंत्री व राज्यपाल आनंदीबेन पटेल।

टॉप-चार जिलों में आज इतने बढ़े मरीज

शहरनए केसमौतलखनऊ444431वाराणसी174001प्रयागराज156509कानपुर088108

UP में नहीं लगेगा लॉकडाउन, 30 तक स्कूल-कॉलेज बंद

प्रदेश में कक्षा 01 से 12वीं तक के सभी सरकारी/गैर सरकारी विद्यालयों को 30 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिया गया है। कोचिंग सेंटर भी बंद रहेंगे। इस अवधि में पूर्व निर्धारित परीक्षाएं हो सकती हैं। आवश्यकता के अनुरूप शिक्षक व अन्य स्टाफ की उपस्थिति हो सकती है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में लॉकडाउन नहीं लगेगा। उत्तर प्रदेश में अब तक 90 लाख वैक्सीनेशन हो चुके है। वैक्सीन की वेस्टेज के लिए लगातार प्रयास जारी है, 20 प्रतिशत वेस्टेज होने वाले जिलों को धीरे धीरे कम वेस्टेज की ओर ले रहे हैं, आज की स्थिति में यह आंकड़ा 20% से घटकर 10 फीसदी से 7 और 3 फीसदी पर आ गया है। कोरोना से सख्ती से निपटने के लिए जिन जिलों में 100 से अधिक केस आ रहे है,और 500 से अधिक एक्टिव केस हैं,उन जिलों में नाइट कर्फ्यू के निर्देश जारी कर दिए गए हैं। पंचायत चुनावों में कोविड को देखते हुए बूथों की संख्या बढ़ाई गई है,पंचायत चुनाव शांति से निपटें, इसकी व्यवस्था भी की गई है।

ललितपुर में JE समेत तीन की मौतअपर जिलाधिकारी अनिल कुमार मिश्र ने बताया कि रविवार को 132 केस बढ़े हैं। झांसी में इलाज करा रहे कोरोना संक्रमित ललितपुर निवासी केदारनाथ (70 साल), रीति त्रिपाठी (27 साल) की मौत हो गई। वहीं कल्यानपुरा स्थित विद्युत उपकेन्द्र में तैनात जूनियर इंजीनियर ट्रांसमिशन अयोध्या प्रसाद (52) को जिला अस्पताल में रविवार की सुबह 8 बजे लाया गया था। उन्हें मृत घोषित कर दिया गया है। वे अमेठी जिले के थाना केतागांव के ग्राम भवानीपुर गांव के रहने वाले थे। उनका सैंपल पॉजिटिव पाया गया है।

जूनियर इंजीनियर के पुत्र संजय कुमार ने बताया कि 8 अप्रैल की शाम पिता अयोध्या प्रसाद ने फोन करके उन्हें बताया था कि उसी दिन शाम 4 बजे कोरोना वैक्सीन ललितपुर में लगवायी थी। उन्हें सलाह दी थी कि मम्मी व दादी को भी कोरोना वैक्सीन लगवा देना। 10 अप्रैल की रात 11 बजे पापा को फोन लगाया गया तो उन्होंने बताया कि उनकी तबीयत खराब है। वह खाना भी नहीं खा पा रहे हैं। उल्टियां हो रही हैं। जिसके चलते वह लोग यहां आ जाएं। वह रात को ही अमेठी से ललितपुर के लिए चला था और आज वह सुबह 9 बजे यहां पहुंचा। उन्हें अस्पताल लाया गया, लेकिन डॉक्टरों ने मृत बता दिया।

अयोध्या प्रसाद।- फाइल फोटो

अयोध्या प्रसाद।- फाइल फोटो

खबरें और भी हैं…

Most Popular