HomeलखनऊLucknow news- विपक्ष अन्नदाताओं के कंधे पर बंदूक रखकर कर रहा गुमराह...

Lucknow news- विपक्ष अन्नदाताओं के कंधे पर बंदूक रखकर कर रहा गुमराह : योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भाजपा कार्यकर्ताओं को मिलकर टीम वर्क के साथ काम करने की सलाह देते हुए सरकार की योजनाओं को साकारात्मक भाव से जनता के बीच ले जाने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने आम जनता को ध्यान में रखकर लोक कल्याण पर आधारित संकल्प पत्र में की गई घोषणाओं को पूरा करने सफल रही है, लेकिन इतने से ही हमें संतुष्ट नहीं होना है। इस तरह के कार्यक्रमों को आगे भी बढ़ाना है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से अपील करते हुए कहा कि पंचायत चुनाव में मिलकर काम करते हुए सरकार की चार साल की उपलब्धियों को हर बूथ और एक-एक जनता तक पहुंचाने में जुट जाएं।

मुख्यमंत्री सोमवार को प्रदेश भाजपा की कार्यसमिति की बैठक का समापन करते हुए यह बात कही। उन्होंने एक दिवसीय कार्यसमिति के आयोजन के लिए पार्टी के अध्यक्ष को बधाई देते हुए कहा कि इसके जरिए पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं से संवाद कायम करने का मौका मिला। करीब अपने 50 मिनट के संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने पिछले चार साल में कई ऐसे कार्य किए हैं, जिसे देश व विदेश में प्रदेश के प्रति लोगों का नजरिया बदला है। इसका ही नतीजा है कि निवेश के लिए यूपी उद्यमियों की पहली पंसद बन गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सिर्फ भाषण नहीं देते काम करके दिखाते हैं। लोक कल्याण संकल्प पत्र में जो वादे किये थे उसे पूरा कर रहे हैं। जाति, क्षेत्र, भाषा, मजहब के आधार पर नौकरी नहीं देते। निष्पक्ष व भेदभाव रहित भर्ती प्रक्रिया से नियुक्तिया हो रही हैं। घोषणा के मुताबिक राम मंदिर का निर्माण कराया। इन कार्यों से ही हमारे प्रदेश की छवि बनी है। किसानों के आंदोलन की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जब कोई सरकार काम करेगी तो विपक्ष उसका विरोध तो करेगा ही। इसलिए ही विपक्ष अन्नदाताओं के कंधे पर बंदूक रखकर उन्हें गुमराह कर रहे हैं। उन्होंने कार्यकर्ताओं से केन्द्र और प्रदेश सरकार द्वारा किसानों के लिए किए गए कार्यों के बारे में भी चर्चा करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने जितना भुगतान चार साल में कर दिए हैं, उतना भुगतान सपा और बसपा के 10 साल के शासनकाल में भी नहीं हुआ था। उन्होंने विपक्ष पर किसानों के साथ धोखा करने का आरोप लगाते हुए कार्यकर्ताओं से किसानों को सच्चाई बताने की अपील की है।

मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर भी निशाना साधते हुए कहा कि आजादी के बाद से लेकर 2014 तक कांग्रेस ने किसानों के लिए कोई योजना शुरू क्यों नहीं की। जबकि छह साल के भाजपा के शासनकाल में किसान हित में करीब आधे दर्जन योजनाएं शुरू की गई हैं। ये योजनाएं पहले भी शुरू हो सकती थीं, लेकिन कांग्रेस ने इस बारे में कभी नहीं सोचा। सरकार की चार साल की उपलिब्धयों की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि संकल्प पत्र की घोषणा के मुताबिक सरकार ने निजी क्षेत्र में 35 लाख युवकों को रोजगार दिया है। जबकि 4 लाख युवकों को सरकारी नौकरी दी गई है। इसी तरह प्रदेश में करीब 3 लाख करोड़ रुपये के निवेश से अवस्थापना विकास से संबंधित योजनाएं चल रही हैं, जिसके माध्यम से भी 1.50 करोड़ लोगों को रोजगार मिला है।

सरकार की ताकत हैं कार्यकर्ता

मुख्यमंत्री ने कहा कि मंत्रिपरिषद के जो भी फैसले होते हुए उसे लागू तो नौकरशाही करती है, लेकिन असली ताकत तो पार्टी के कार्यकर्ता ही हैं, जो उसे जमीन तक पहुंचाने में मदद करते हैं। कार्यकर्ताओं को सरकार की ताकत बताते हुए कहा कि इनके बल पर ही प्रदेश में चार साल में एक भी दंगा नहीं होने दिया। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं से ही सरकार की धमक बनती है और इनकी वजह से सरकार ने अपनी धमक बनाई है। प्रदेश की कानून-व्यवस्था में सुधार का श्रेय कार्यकर्ताओं को देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जमीनी स्तर पर भी इनकी वजह से ही भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टालरेंस पर कार्य करने में सफल हुए हैं।

कार्यकर्ताओं को समझाया सोशल मिडिया की ताकत
सरकार द्वारा तैयार कराई गई उपलब्धियों पर आधारित बुकलेट की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हर बूथ पर 100 से 150 बुकलेट उपलब्ध कराई जाएगी। सभी कार्यकर्ता और पदाधिकारी भी अपने पास बुकलेट रखें और पंचायत चुनाव के दौरान उसे हर घर तक पहुंचाएं। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को सोशल मीडिया की ताकत समझाते हुए कहा कि इसके जरिए आप हर घर तक पहुंच सकते हैं। इसलिए इसका इस्तेमाल करते हुए स्मार्ट फोन के जरिये सरकार की उपलब्धियों का प्रचार-प्रसार कीजिए। उन्होंने कार्यकर्ताओं को चुप न रहने की सलाह देते हुए कहा कि सरकार जो काम कर रही है, उसके बारे में लोगों से चर्चा कीजिए और डिबेट आदि में पूरी तैयारी के साथ बैठिए और अपनी बात पूरी मजबूती से रखिए।

वैक्सिनेशन में भी सहयोग दें कार्यकर्ता
पार्टी के कार्यकर्ताओं को कोरोना काल में सरकार द्वारा किए गए प्रबंधन की चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री ने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की है कि वह भी लोगों का वैक्सिनेशन करान में मदद करें। उन्होंने कहा कि कोरोना पिछले एक साल से चुनौती बना हुआ था. लेकिन अब थोड़ी राहत है। फिर भी बेपरवाह होने की जरूरत नहीं है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं को आगाह करते हुए कहा कि कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ है। 7 राज्यों में मामले तेजी से बढ़े हैं। इसलिए सर्तकता जरूरत बरतें और मास्क अनिवार्य रूप से पहने। उन्होंने 60 साल और 45 साल की आयु पूरी करने वाले बीमार कार्यकर्ताओं से भी वैक्सिन लगवाने की अपील की।

पूरे दिन मौजूद रहे मुख्यमंत्री
भाजपा के प्रदेश की कार्यसमिति की बैठक के उद्घाटन के मौके पर पहुंचे मुख्यमंत्री समापन तक इंदिरागांधी प्रतिष्ठान में मौजूद रहे। पूरे दिन वहां रहकर उन्होंने क्षेत्रीय व जिलाध्यक्षों के अलावा सामान्य कार्यकर्ताओं से भी मिलते रहे। कुछ देर के लिए वहीं पर एक दूसरे कार्यक्रम में शामिल होने के बाद मुख्यमंत्री दुबारा कार्यसमिति की बैठक में पहुंच गए। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं से सरकार की योजनाओं की भी चर्चा की और जमीन हकीकत केबारे में जानकारी ली। कार्यकर्ताओं से हंसी-मजाक करते हुए मुख्यमंत्री ने उन्हें सकारात्मक भाव से काम करने सलाह भी दी। कार्यक्रम समापन करने के बाद ही मुख्यमंत्री वहां से हटे।

सरकार की ताकत हैं कार्यकर्ता

Most Popular