Home लखनऊ Lucknow news- विवादित टिप्पणी का मामला: दिल्ली के पूर्व मंत्री सोमनाथ भारती...

Lucknow news- विवादित टिप्पणी का मामला: दिल्ली के पूर्व मंत्री सोमनाथ भारती को मिली सशर्त जमानत

उत्तर प्रदेश के अस्पतालों के बारे में विवादित टिप्पणी करने के आरोप में जेल में निरुद्घ दिल्ली के पूर्व मंत्री व आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती को शुक्रवार को कोर्ट से जमानत मिल गई। स्पेशल जज एमपी/एमएलए पीके जयंत ने पूर्व मंत्री की जमानत अर्जी मंजूर कर ली है। पूर्व मंत्री के खिलाफ अमेठी जिले के जगदीशपुर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया था।

दिल्ली के पूर्व मंत्री व आम आदमी पार्टी के विधायक सोमनाथ भारती पिछले नौ जनवरी को अमेठी जिले में आए थे। इस दौरान जगदीशपुर कस्बे में स्थित रामलीला मैदान में प्रेस कांफ्रेंस में पूर्व मंत्री ने कहा था कि वे यूपी के स्कूलों व अस्पतालों को देख रहे हैं। आरोप है कि पूर्व मंत्री सोमनाथ भारती ने कहा था कि यूपी के अस्पतालों में बच्चे पैदा हो रहे हैं, लेकिन कुत्तों के बच्चे पैदा हो रहे हैं। पूर्व मंत्री की इस विवादित टिप्पणी से आहत अमेठी जिले के जगदीशपुर थाने के हरपालपुर गांव निवासी शोभनाथ साहू ने जगदीशपुर थाने में पूर्व मंत्री सोमनाथ भारती के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। 

इसी मामले में पुलिस ने पिछले 11 जनवरी को पूर्व मंत्री को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया था, जहां कोर्ट ने क्रिमिनल हिस्ट्री तलब कर उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेजने का आदेश दिया था। शुक्रवार को पूर्व मंत्री की जमानत अर्जी पर सुनवाई हुई। बचाव पक्ष की ओर से अधिवक्ता संतोष पांडेय व रुद्र प्रताप सिंह मदन ने बहस करते हुए कहा कि सत्ता पक्ष के दबाव में पुलिस ने फर्जी मुकदमा दर्ज किया है। 

अभियोजन पक्ष की ओर से उनकी जमानत का विरोध किया गया। स्पेशल जज एमपी/एमएलए पीके जयंत ने दोनों पक्षों की दलीलों को सुनने के बाद पूर्व मंत्री की सशर्त जमानत मंजूर कर ली है। कोर्ट ने 30-30 हजार रुपये के दो जमानतनामा दाखिल करने पर पूर्व मंत्री को रिहा करने का आदेश दिया है। 

अदालत ने पूर्व मंत्री पर गवाहों को न डराने व धमकाने, चार्जशीट दाखिल होने के बाद ट्रायल के दौरान प्रत्येक पेशी पर मौजूद रहने, विचारण में पूर्ण रूप से सहयोग करने, अन्य किसी अपराध को कारित नहीं करने की शर्त लगाई है। इन शर्तो का उल्लंघन करने पर कोर्ट ने उनके खिलाफ कार्रवाई करने की चेतावनी भी दी है।

Most Popular