HomeलखनऊLucknow news - शांतिपू्र्ण माहौल के लिए प्रशासन की मुहिम: होली पर...

Lucknow news – शांतिपू्र्ण माहौल के लिए प्रशासन की मुहिम: होली पर शांति व्यवस्था बनाए रखने की कवायद, 41 मस्जिदों को प्लास्टिक कवर या तिरपाल से ढ़कने की तैयारी

होली के पर्व पर जिले में शांति बनाए रखने के उद़देश्य से प्रशासन ने यहां की 41 मस्जिदों को प्लास्टिक कवर या तिरपाल से ढ़कने का फैसला किया है। इसकी शुरुआत कर दी गई है। - Dainik Bhaskar

होली के पर्व पर जिले में शांति बनाए रखने के उद़देश्य से प्रशासन ने यहां की 41 मस्जिदों को प्लास्टिक कवर या तिरपाल से ढ़कने का फैसला किया है। इसकी शुरुआत कर दी गई है।

पिछले साल होली पर लाट साहब का जुलूस सकुशल संपन्न कराने वाले अनुभवी पुलिसकर्मियों को फिर दी जाएगी जिम्मेदारी

उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में प्रशासन का एक नया फरमान सामने आया है। होली पर्व को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए पुलिस प्रशासन ने पूरी ताकत झोंक दी है। अतिसंवेदनशील होली पर्व पर किसी तरह का विवाद न हो, इसके लिए पुलिस प्रशासन ने रोड पर स्थित धर्मस्थलों को तिरपाल से ढकना शुरू कर दिया है।

जानकारी के अनुसार, शहर में करीब 41 धर्मस्थल हैं। जिनकी सुरक्षा के लिए पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाएगी। साथ ही पिछले साल होली पर जुलूस में ड्यूटी कराने वाले पुलिसकर्मियों को अनुभव के आधार पर जुलूस में तैनात किया जाएगा

दरअसल 29 मार्च को होली पर्व मनाया जाएगा। होली के दिन सुबह में लाट साहब का जुलूस निकलता है। जिसमें भारी भीड़ इकट्ठा होती है। बेहद संवेदनशील माने जाने वाले लाट साहब के जुलूस को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए पुलिस प्रशासन ने एक महीने पहले से तैयारी करना शुरू कर दी है। किसी तरह का विवाद या हिंसा न हो। इसके लिए पुलिस प्रशासन ने शहर में स्थित करीब 41 विशेष समुदाय के धर्मस्थलों को तिरपाल से ढकना शुरू कर दिया है।

मस्जिदों को तिरपाल से ढ़कने की कार्रवाई शुरू

चौक कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला मोहम्मदजई में स्थित मस्जिद को तिरपाल से छुपाया गया। ताकि होली पर्व पर शरारती तत्व धर्मस्थल पर रंग फेंककर शहर की फीजा को खराब न कर दें। धर्मस्थलों की सुरक्षा के लिए एक धर्मस्थल पर करीब आधा दर्जन पुलिसकर्मियों को तैनात किया जाएगा।

तनावपूर्ण माहौल से बचने के लिए उठाया गया कदम

बताया जा रहा है कि अक्सर धर्मस्थलों पर रंग फेंकने के बाद तनाव की स्थित उत्पन्न हो जाती थी। जिसके बाद पुलिस प्रशासन को माहौल शांत करने में कड़ी मशक्कत का सामना करना पड़ता था। लेकिन पुलिस प्रशासन द्वारा धर्मस्थलों को तिरपाल से ढकने की पहल रंग लाई और धर्मस्थलों पर रंग फेंकने की घटनाओं पर अंकुश भी लगा है।

खबरें और भी हैं…

Most Popular