Home लखनऊ Lucknow news- श्रीरामजन्मभूमि निधि समर्पण महाअभियान शुरू : पूर्व विधायक ने दिए...

Lucknow news- श्रीरामजन्मभूमि निधि समर्पण महाअभियान शुरू : पूर्व विधायक ने दिए एक करोड़ 11 लाख 11 हजार एक सौ 11 रुपये

राममंदिर निर्माण में जन-जन की सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए पूरे देश में 15 जनवरी से श्रीराम जन्मभूमि निधि समर्पण अभियान का शुभारंभ हो गया। 27 फरवरी तक चलने वाले इस महाअभियान में देश के 13 करोड़ परिवारों से संघ व उसके अनुषांगिक संगठनों के 40 लाख कार्यकर्ता जनसंपर्क कर राममंदिर निर्माण के लिए ऐच्छिक समर्पण मांगेंगे। यह विश्व का सबसे बड़ा अभियान होगा। जिसके लिए देश के लाखों कार्यकर्ता देश की आधी आबादी तक जाएंगे। समर्पण अभियान का नेतृत्व श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय व कोषाध्यक्ष गोविंददेव गिरि संघ के आनुषांगिक संगठनों के साथ समन्वित रूप से करेंगे। अभियान की मॉनीटरिंग के लिए विहिप ने एक विशेष एप भी बनाया है। शुक्रवार को राम मंदिर निर्माण के लिए पूर्व विधायक सुरेंद्र बहादुर सिंह ने एक करोड़ 11 लाख 11 हजार एक सौ 11 रुपये का चेक चंपतराय को सौंपा है।

अयोध्या में भव्य राममंदिर निर्माण को लेकर शुक्रवार से धन संग्रह का महाभियान शुरू हो गया। कुल 45 दिनों का यह अभियान माघ पूर्णिमा (27 फरवरी) तक चलेगा। विहिप द्वारा तैयार कराए गए विशेष एप के जरिए श्रीराम जन्मभूमि निधि समर्पण महाभियान की मॉनीटरिंग की जाएगी। इसमें एक-एक रसीद के बारे में रियल टाइम जानकारी होगी। अभियान में लगी टोलियों के साथ ही संग्रह की गई धनराशि व अन्य जानकारियां होंगी। अभियान के क्रम में देश के कुल साढ़े छह लाख में से सवा पांच लाख गांवों के 13 करोड़ से अधिक परिवारों के 65 करोड़ लोगों से संपर्क करने का लक्ष्य है। इसमें 10 लाख टोलियों में 40 लाख से अधिक कार्यकर्ता घर-घर जाएंगे। एक टोली में पांच कार्यकर्ता होंगे और हर चार टोलियों पर एक जमाकर्ता होगा। हर जमाकर्ता द्वारा रोजाना पूर्व निर्धारित तीन बैंकों में जमा कराई गई राशि की जानकारी भी प्रतिदिन इस ऐप के माध्यम से मिलेगी।

अभियान के माध्यम से तैयार होगा करोड़ों रामभक्तों का डाटा

– श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए शुरू हो रहे अभियान के माध्यम से देेश के करोड़ों रामभक्तों का डाटा भी तैयार किए जाने की योजना है। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की ओर से 10, 100 व 1000 रुपयों के कूपन जारी किए गए हैं। इसके ऊपर की राशि पर रसीद दी जाएगी। रसीद व कूपन देने के साथ समर्पणकर्ता का नाम, पता व मोबाइल नंबर संग्रहित किया जाएगा। वहीं, 20 हजार से अधिक की राशि अकाउंट पेई चेक या बैंक ट्रांसफर द्वारा ही स्वीकार्य होगी। 

बिना रसीद या कूपन के नहीं ली जाएगी कोई राशि

– कूपन व रसीद पर ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंददेव गिरि के हस्ताक्षर हैं। इसमें प्रभु राम की एक हाथ में धनुष लिए और दूसरे हाथ से आशीर्वाद देती आदमकद तस्वीर, राम मंदिर का मॉडल व ट्रस्ट का लोगो भी छपा है। बिना रसीद या कूपन के कोई राशि नहीं ली जाएगी।  जो राशि ली जाएगी वह प्रतिदिन पंजाब नेशनल बैंक, भारतीय स्टेट बैंक व बैंक ऑफ बड़ौदा की देश भर में फैली 46 हजार शाखाओं में प्रतिदिन जमा कराई जाएगी।

Most Popular