Home लखनऊ Lucknow news- हाथरस कांड: सीबीआई ने हाईकोर्ट से जांच पूरी करने को...

Lucknow news- हाथरस कांड: सीबीआई ने हाईकोर्ट से जांच पूरी करने को मांगा और वक्त

इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ में बुधवार को सीबीआई ने यूपी के बहुचर्चित हाथरस केस में जांच के लिए और समय मांगा है। जांच एजेंसी ने कोर्ट से कहा है कि केस की जांच को खत्म करने में अभी और वक्त लगेगा और संभवतः 18 दिसंबर तक चार्जशीट तैयार हो सकती है। इस वजह से स्टेटस रिपोर्ट अभी दाखिल नहीं की जा सकती। इस पर कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 27 जनवरी की तारीख नियत की है।

उल्लेखनीय है कि बिटिया के मामले का हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने स्वत: संज्ञान लिया था। पिछली बार इस मामले में इस खंडपीठ में 25 नवंबर को सुनवाई हुई थी। कोर्ट में सीबीआई की ओर से तफ्तीश की स्टेटस रिपोर्ट पेश की गई थी। सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने डीएम हाथरस को न हटाए जाने पर नाराजगी जताई थी। अब बुधवार को फिर इस मामले में अगली सुनवाई होगी। ऐसे में सबकी टकटकी हाईकोर्ट की कार्रवाई पर लगी है। लोगों कीनिगाहें इस पर भी हैं कि सीबीआई अपनी क्या रिपोर्ट हाईकोर्ट में प्रस्तुत करेगी। इधर, बिटिया के परिजनों का कहना है कि वह बुधवार को कोर्ट नहीं जाएंगे। उनकी ओर से जो कुछ भी कार्रवाई होगी, वह उनके वकील ही करेंगे। इधर, रोजाना की तरह सीआरपीएफ बिटिया के घर पर पर तैनात रही।

गौरतलब है कि गत दिवस हाथरस कांड में वांछित आरोपी रऊफ शरीफ को प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने त्रिवेंद्रम हवाई अड्डे से गिरफ्तार कर लिया। पीएफआई की छात्र विंग का महासचिव रऊफ मस्कट भागने की फिराक में था। हाथरस में दंगा भड़काने के आरोप में मथुरा के मांट टोल से पांच अक्तूबर को पीएफआई के चार सदस्यों को गिरफ्तार किया गया था। पकड़े गए अतीकुर्रहमान व मसूद ने पूछताछ में बताया था कि दंगा भड़काने के लिए उन्हें केरल निवासी पीएफआई की छात्र विंग के महासचिव रऊफ शरीफ ने आर्थिक मदद व संसाधन उपलब्ध कराए थे। इस मामले में विदेश से फंडिंग होने के तथ्य सामने आने के बाद प्रवर्तन निदेशालय भी जांच में जुट गया था। रऊफ समेत अन्य आरोपियों के लिए 18 नवंबर को लुकआऊट नोटिस भी जारी किया गया था। जांच एजेंसियों की पड़ताल में यह तथ्य सामने आया है कि मास्टरमाइंड रऊफ देश-विदेश से करोड़ों की फंडिंग करवा रहा था। यह रकम सामाजिक वैमनस्यता और सांप्रदायिक दंगों को भड़काने के उपयोग में लाई जा रही थी।

Most Popular