Home लखनऊ Lucknow news- 20 से 30 सेकेंड में तत्काल टिकट बुक कर करता...

Lucknow news- 20 से 30 सेकेंड में तत्काल टिकट बुक कर करता था मोटी कमाई, आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर ही करता था खेल

सॉफ्टवेयर की मदद से तत्काल टिकटों की बुकिंग में सेंध लगाने वाले एक युवक को यूपी एसटीएफ ने बस्ती से गिरफ्तार किया है। दबोचे गए युवक का नाम सद्दाम हुसैन अंसारी है। एसटीएफ की ओर से बताया गया कि टिकट बुकिंग करने वाली वेबसाइट आईआरसीटीसी पर कैप्चा जैसी प्रक्रिया को बाईपास कर एक्सटेंशन के माध्यम से टिकट बुक कराये जाते थे। इसके लिए तेज, ओसियन, तत्काल किंग, एनएमएस, रेड, मिर्ची, तत्काल प्लस, सुपर तत्काल, रियल मैंगो, स्पार्क जैसे एक्सटेंशन का प्रयोग तत्काल टिकटों की बुकिंग के लिए किया जाता था।

 

पूछताछ में पकड़े गए सद्दाम अंसारी ने बताया कि उसकी बस्ती के मलौली में ही अंसारी टूर एंड ट्रेवेल के नाम से दुकान है जिसमें रेलवे के टिकट और जनसेवा संबंधी काम किए जाते हैं। सद्दाम के पास से बरामद मोबाइल में कई एक्सटेंशन की खरीद फरोख्त का हिसाब किताब व्हाट्स एप मैसेज बॉक्स में मिला।

सद्दाम ने बताया कि उसका पूरा गिरोह है जो विभिन्न राज्यों जैसे उत्तर प्रदेश के अलावा बिहार, पश्चिम बंगाल, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब में इस तरह का काम करता है। इन एक्सटेंशन की मदद से कम से कम ढाई से तीन मिनट में बुक होने वाले टिकट को 20 से 30 सेकेंड के अंदर बुक कर लिया जाता है।

कैप्चा को बाइपास करने से ऑटो रीड हो जाता है ओटीपी

एक्सटेंशन का फायदा यह होता है कि तत्काल के फार्म पहले से भरे होते हैं और टिकट बुक होने का समय शुरू होते ही उसे लिंक कर के सबमिट कर देते हैं और टिकट बुक हो जाता है। एक्स्टेंशन की वजह से कैप्चा को बाईपास कर दिया जाता है और ओटीपी ऑटो रीड हो जाता है। कंफर्म टिकट के बदले मोटी कमाई एजेंट कर लेते हैं।

इससे आम यात्री जो विंडो से टिकट लेते हैं या अपनी लॉग इन आईडी से तत्काल टिकट लेने का प्रयास करते हैं उन्हें टिकट ही नहीं मिल पाता। गिरफ्तार किए गए सद्दाम को लखनऊ साइबर क्राइम थाने में रखकर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

आगे पढ़ें

कैप्चा को बाइपास करने से ऑटो रीड हो जाता है ओटीपी

Most Popular