Home लखनऊ Lucknow news - UP होमगार्डस का 59वां स्थापना दिवस आज: CM योगी...

Lucknow news – UP होमगार्डस का 59वां स्थापना दिवस आज: CM योगी करेंगे होमगार्ड्स स्मारिका का विमोचन; शहीद जवानों के आश्रितों को देंगे सहायता

UP होमगार्ड का 59वां स्थापना दिवस आज है। इस मौके पर सीएम येागी होमगार्ड्स के जवानों को जहां सम्मानित करेंगे वहीं दूसरी ओर ड्यूटी के दौरान शहीद हुए जवानों के परिजनों को अनुग्रह राशि भी प्रदान करेंगे।

प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने 25 साल बाद होमगार्ड महकमे में सुधार की कवायद शुरू कीबिकरू काण्ड में घायल होमगार्ड व जनपद गाजियाबाद की महिला होमगार्ड को डीजी कमेण्डेशन डिस्क प्रदान किया जाएगा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 59वें उत्तर प्रदेश होमगार्ड स्थापना दिवस के अवसर पर भव्य रितिक परेड का आज मान-प्रणाम स्वीकार करेंगे। मुख्यमंत्री गार्ड ऑफ ऑनर स्वीकार कर परेड का निरीक्षण करेंगे। हालांकि 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में विवादित ढांचा गिराया गया तो पूरे देश का माहौल बिगड़ गया और इस तारीख के बाद होमगार्ड का स्थापना दिवस समारोह भी महज औपचारिकता रह गई। लेकिन मार्च 2017 में प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने 25 साल बाद होमगार्ड महकमे में सुधार की कवायद शुरू की। आजादी के बाद विभाग को पहली बार उसका अपना झंडा दिया गया।

मुख्यमंत्री होमगार्ड कार्यालय भवनों का लोकार्पण एवं होमगार्ड्स स्मारिका का विमोचन करेंगे। इस अवसर पर जनपद कानपुर नगर के बिकरू काण्ड में घायल होमगार्ड व जनपद गाजियाबाद की महिला होमगार्ड को डीजी कमेण्डेशन डिस्क प्रदान किया जाएगा। ड्यूटी के दौरान शहीद हुए कर्मियों के आश्रित जनों को अनुग्रह राशि के चेक प्रदान करेंगे। सीएम योगी आदित्यनाथ इस अवसर पर प्रदेश के 90 हजार होमगार्ड कर्मियों के लिए कई सौगातें का ऐलान कर सकते हैं।

चीन युद्ध के बाद हुआ था पुनर्गठनहोमगार्ड भारत की पैरामिलिट्री फोर्स है यह एक स्वयंसेवी फोर्स है जो भारत में पुलिस बल के सहयोग के लिए होती है। 1962 के भारत चीन युद्ध के बाद इस फोर्स का पुर्नगठन किया गया। इससे पहले केवल इसकी कुछ यूनिट कुछ स्थानों पर ही थी। होम गार्ड के जवानों का चुनाव नागरिक पेशेवरों में से ही किया जाता है। जैसे कॉलेज के छात्र, काम करने वाले व्यक्ति और इंडस्ट्रियल वर्कर आदि में से इनका चुनाव किया जाता है जो अपना खाली समय को देश की सेवा में दे सके। इसका गठन किसी भी आपात स्थिति में सैन्य बलों का सहयोग करने के लिए किया गया था।

होमगार्ड संगठन भारत के कई राज्यों में सक्रिय है। होमगार्ड प्रमुख को डायरेक्टर जनरल ऑफ होम गार्ड कहा जाता है। होमगार्ड में काम करने वाले जवान को महीने में करीब 20 हजार रुपए वेतन और भत्ता मिलता है। इसी साल मई महीने में सरकार ने नोटिस जारी कर वेतन बढ़ाने को मंजूरी दी है।

UP में 60 महिला प्लाटून पूरे प्रदेश में स्थापित हैं6 दिसंबर 2020 को अपना 59वां स्थापना दिवस मनाने जा रहा है 2000 की सीमित संख्या से शुरू हुए होमगार्ड में आज 1,18,348 होमगार्ड के पद स्वीकृत है जिसमें 90000 होमगार्ड आज उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था से लेकर कोविड-19 के लिए ड्यूटी दे रहे हैं। होमगार्ड की कुल कंपनी की बात करें तो 785 ग्रामीण क्षेत्र में होमगार्ड कंपनी 366 नगरी क्षेत्र में कंपनी और 60 महिला प्लाटून पूरे प्रदेश में स्थापित हैं।

Input – Bhaskar.com

Most Popular